ऋषभ पंत

भारतीय क्रिकेट टीम के युवा विकेटकीपर-बल्लेबाज ऋषभ पंत हमेशा ही सुर्खियों में बने रहते हैं। उन्होंने जब से डेब्यू किया है, तभी से उन्हें अगला महेंद्र सिंह धोनी माना जाता रहा है, जिसके चलते वह अक्सर अपनी विकेटकीपिंग में की जाने वाले गलतियों के चलते आलोचनाओं से घिरे रहते हैं। मगर अब रविचंद्रन अश्विन से जब पंत क लेकर सवाल किए गए, तो उन्होंने दरख्वास्त की, कि पंत की सकारात्मक बातों पर ध्यान दें।

बेहतरीन खिलाड़ियों को ही मिलता है देश के लिए खेलने का मौका

ऋषभ पंत

भारतीय क्रिकेट टीम के युवा विकेटकीपर-बल्लेबाज को लेकर जब रविचंद्रन अश्विन से वर्चुअल प्रेस कॉन्फ्रेंस में सवाल पूछे गए। तो अश्विन ने ऑस्ट्रेलिया के कैमरन ग्रीन का उदारण पेश करते हुए इस बात को साफ किया कि जब आप किसी खिलाड़ी से अत्यधिक उम्मीद करने लगते हैं, तो उस खिलाड़ी के लिए प्रदर्शन करना मुश्किल हो जाता है। उन्होंने कहा,

“हम एक समाज के तौर पर जब हमारी टीम में कोई युवा खिलाड़ी आता है, तो उसके लिए जो हमारा बर्ताव होता है, वह काफी इफैक्ट डालता है। ऋषभ पंत बेहतरीन खिलाड़ी हैं और हमारी टीम में और भी कई बेहतरीन खिलाड़ी हैं और जो स्कीम ऑफ थिंग्स में हैं। वह बेहतरीन खिलाड़ी होते हैं, तभी तो देश के लिए खेलने का मौका मिलता है।”

सकारात्मक चीजों पर दें ध्यान

ऋषभ पंत यदि विकेट के आगे या पीछे एक छोटी सी भी गलती करते हैं, तो उन्हें सोशल मीडिया पर काफी आलोचनाओं का सामना करना पड़ता है। अश्विन का मानना है कि ऐसा करने से खिलाड़ियों के माइंडसेट पर फर्क पड़ता है, इसलिए उनकी सकारात्मक चीजों पर ध्यान देना चाहिए। अश्विन ने कहा,

“ऋषभ पंत हमेशा से ही एक बहुत अच्छे खिलाड़ी हैं। वो हमेशा सुधार करते रहते हैं। लेकिन अगर आप इस तरह लगातार कमियां निकालते रहेंगे, तो उन्हें सुधार करने में वक्त लगेगा, क्योंकि खिलाड़ियों के माइंडसेट में समस्या होती है। इसलिए अपने देश के खिलाड़ियों की अच्छाईयों को देखिए, कि वह कितने अच्छे हैं, सभी के पास दो पहलूं होते हैं अब आप पर निर्भर करता है कि आप पॉजिटिव को चुनते हैं या फिर नेगेटिव को। अगर हम अधिक पॉजिटिव चीजें देखते हैं तो ये खिलाड़ियों के लिए अच्छा होगा। “

शानदार लय में हैं ऋषभ पंत

ऋषभ पंत

भारतीय क्रिकेट टीम के युवा विकेटकीपर-बल्लेबाज ऋषभ पंत इन दिनों बल्ले के साथ कमाल का खेल दिखा रहे हैं। ऑस्ट्रेलिया दौरे पर उन्होंने भारत के लिए सबसे अधिक रन बनाकर सीरीज जिताने में अहम योगदान दिया था। अब इंग्लैंड सीरीज में भी खेले गए दो टेस्ट मैचों में उन्होंने अच्छी बल्लेबाजी की है। पहले मैच में 91 रन की खतरनाक पारी खेली, तो दूसरे मैच में नाबाद 58 रन की महत्वपूर्ण पारी खेली।

इसके अलावा पंत की विकेटकीपिंग में भी काफी सुधार नजर आ रहा है। दूसरे टेस्ट में पंत ने विकेट के पीछे से कुछ शानदार कैच पकड़े थे।