Sanju Samson-rishabh pant

Sanju Samson कब तक दूसरों के लिए बनते रहेंगे बली का बकरा? अच्छे प्रदर्शन के बाद भी पंत को दिए जा रहे हैं मौके∼

भारत और न्यूजीलैंड (NZ vs IND) के बीच तीन मैचों की वनडे सीरीज का दूसरा मुकाबला रविवार यानी 27 नवंबर को सेडॉन पार्क, हैमिल्टन में खेला जा रहा है. न्यूज़ीलैंड ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाज़ी करने का फ़ैसला किया. उनकी टीम में एक बदलाव है, ऐडम मिल्न की जगह माइकल ब्रेसवेल को जगह दी गई है.

जबकि भारतीय कप्तान शिखर धवन ने इस मुकाबले में दो बदलाव किए हैं. उन्होंने फ्लॉप चल रहे ऋषभ पंत (Rishabh Pant) को प्लेइंग-11 में बनाए रखा है. जबकि संजू सैमसन (Sanju Samson) की जगह दीपक हुड्डा को शामिल किया गया है.आखिरकार पिछले मुकाबले में छोटी सी पारी में अच्छा इंटेट दिखाने वाले युवा बल्लेबाज संजू को एक बार फिर बाहर का रास्ता दिखा दिया गया है. जो फैसला किसी के भी समझ से परे है. ऐसे में सवाल ये उठता है कि आखिर क्यों अच्छे प्रदर्शन के बाद भी सैमसन को नजरअंदाजगी का सामना करना पड़ रहा है?

लगातार फ्लॉप होने पर Rishabh Pant को क्यों मिल रहा मौका ?

Rishabh Pant
Rishabh Pant

भारतीय टीम के युवा विकेटकीपर बल्लेबाज ऋषभ पंत (Rishabh Pant) अपनी खराब फॉर्म के चलते सुर्खियों में बने हुए हैं. फैंस उन्हें लगातार टीम से बाहर किए जाने की मांग कर रहे हैं. उसके बावजूद भी उन्हें प्लेइंग-11 में मौके मिल रहे है.जिसका अब विरोध हो रहा हैं.क्योंकि उन्होंने पिछले 10 पारियों में सिर्फ 22 की खराब औसत से 181 रन बनाए हैं.

पंत व्हाइट बॉल क्रिकेट में अब तक उम्मीद के मुताबिक प्रदर्शन नहीं कर पाए हैं. उन्होंने अब तक 27 वनडे मैचों में 36.52 की औसत से 840 रन बनाए हैं. टी-20 इंटरनेशनल में उनका प्रदर्शन और भी कमजोर है. इस फॉर्मेट में उन्होंने 66 मैचों में 22 की औसत से 987 रन बनाए हैं.

Sanju Samson कब बनते रहेंगे बली का बकरा?

Sanju Samson Rishabh Pant

मेजबान टीम न्यूजीलैंड इस सीरीज का पहला मुकाबला जीतकर 1-0 से आगे चल रही है. ऐसे में हैमिल्टन में खेले जा रहे दसरे मुकाबले को जीतर भारतीय टीम सीरीज में बनी रहना चाहेंगी.वहीं  इस मुकाबले में विकेटकीपर बल्लेबाज संजू सैमसन (Sanju Samson) को पहला वनडे खिलाकर दूसरे वनडे में बाहर का रास्ता दिखा. ऐसे में सोशल मीडिया पर फैंस संजू को नहीं खिलाए जाने पर अपने गुस्से का इजहार कर रहे हैं और बीसीसीआई पर आरोप लगा रहे हैं कि वह जानबूझकर उन्हें नजरअंदाज कर रहे हैं.

हालांकि टीम मैनेजमेंट की मंशा पर सवाल तो खड़े होंगे ही. क्योंकि टी20 विश्व कप से फ्लॉप चल रहे ऋषभ पंत को लगातार मौके दिए जा रहें है. इसके पिछे बीसीसीआई की क्या मंशा यह कह पना काफी मुश्किल होगा. टी20 सीरीज के पिछले दोनों मुकाबले में उनका बल्ला शांत रहा.

जबकि पहले  वनडे मुकाबले में भीं पत 15 रन बनाकर सस्ते में आउट गए. लेकिन उसके बावजूद उन्हें मौके दिए जा रहे है. वहीं संजू की बात करे को उन्होंने इस सीरीज के पहले मुकाबले में 36 रनों की छोटी सी पारी खेलकर बता दिया कि उनके पास इंटेट है कि समय आने पर वह बड़ी पारी खेलकर खेल सकते हैं.

T20 सीरीज में भी नहीं मिला था मौका

Sanju Samson Team India - NZ vs IND

संजू सैमसन (Sanju Samson) को क्रिकेट के सबसे छोटे प्रारूप में ताबड़तोड़ बल्लेबाजी करते हुए देखा गया है. उन्होंने अपनी कप्तानी में शानदार बैटिंग करते हुए राजस्थान को आईपीएल के 15वें सीजन में फाइनल में पहुंचाया. हालांकि गुजरात के हाथों हार का सामना करना पड़ा था.

वहीं अब बात न्यूजीलैंड के दौरे की करेंगे. क्योंकि संजू इस दौरे के लिए वनडे और टी20 सीरीज के लिए चुना गया है. जबकि यह टैलेंटिट खिलाड़ी टी20 सीरीज में बैंच गर्म करता हुए नजर आया. वहीं अब वनड़े सीरीज में भी संजू को नजरअंदाज किया जा रहा है.

बता दें कि संजू सैमसन ने  पिछले मुकाबले में अहम मौके पर श्रेयस अय्यर के साथ एक साझेदारी की थी, जिसके दम पर 306 रनों का स्कोर खड़ा हो सका था। सैमसन ने 38 गेंदों में 4 चौके की मदद से 36 रन बनाए थे। इसके बावजूद दोनों को टीम से बाहर होना पड़ा है. हालांकि, यहां संजू सैमसन अधिक ठगा हुआ महसूस कर रहे होंगे.

यह भी पढ़े: टीम इंडिया को अब विराट कोहली की जरुरत नहीं! ये खिलाड़ी नंबर-3 के लिए बैठता है फिट

Rubin Ahmad

रूबिन अहमद, क्रिकेट एडिक्टर ऑनलाइन में असिस्टेंट न्यूज एडिटर हैं. दिल्ली विश्वविद्यालय...