5 players who are failed to cross Yo-yo fitness test
Sportskeeda

चेन्नई सुपर किंग्स को बीच में छोड़कर स्वदेश लौटेने वाले सुरेश रैना पर चेन्नई सुपर किंग के मालिक और पूर्व बीसीसीआई अध्यक्ष ने बड़ा खुलासा किया है.दरअसल एन. श्रीनिवासन ने उन खबरों की पुष्टि कर दी है, जिनमें कहा जा रहा था कि सुरेश रैना खराब होटल रूम और कोरोना वायरस के डर की वजह से आईपीएल 2020 छोड़कर स्वदेश लौट आए हैं.

इसके साथ ही श्रीनिवासन ने रैना पर तंज कसते हुए ये भी कहा है कि कई बार इंसान अपनी सफलता के मद में अंधा हो जाता है.

एन श्रीनिवासन का रैना के घर लौटने पर बड़ा खुलासा

53 srinivasan 5

दरअसल सीएसके के मालिक और बीसीसीआइ के पूर्व अध्यक्ष एन श्रीनिवासन की की माने तो रैना के अचानक चले जाने से टीम को धक्का तो लगा है, लेकिन कप्तान धौनी ने पूरी तरह से स्थिति को संभाल लिया है. श्रीनिवासन ने इसी बीच रैना के अचानक भारत लौटने पर भी बात की. इस दौरानश्रीनिवासन ने आउटलुक से कहा कि,

“टीम, रैना की चिंता से अब बाहर आ गयी है. मेरा सोचना है कि अगर आप अनिच्छुक या खुश नहीं हैं तो वापस लौट जाइए. मैं किसी को भी कुछ करने के लिए दबाव नहीं बनाता. कई बार इंसान सफलता के मद में अँधा हो जाता है. मैंने धौनी से बात की है और उन्होंने मुझे विश्वास दिलाया है कि अगर कोरोना पॉजिटिव के मामले टीम में और बढ़ भी जाते हैं तो चिंता करने की कोई बात नहीं है. उन्होंने सभी खिलाड़ियों से जूम कॉल पर बात की है और उनसे सुरक्षित रहने को कहा है.”

सुरेश रैना की अनुपस्थिति में ऋतुराज गायकवाड़ के पास है शानदार मौका

ruturaj with dhoni

श्रीनिवासन ने रैना की गैर मौजूदगी को ऋतुराज गायकवाड़ के लिए एक मौक़ा बताया है, इसके साथ ही उनका ये भी मानना है कि  रैना भी टीम में वापस आ सकते हैं. इस पर बात करते हुए उन्होंने कहा कि,

“सुरेश रैना का चले जाना गायकवाड़ के लिए अच्छी खबर है. वह एक शानदार बल्लेबाज है और उसे अब मौका मिल सकेगा. ऋतुराज इस बार आइपीएल का स्टार बन सकता है. मेरा ख्याल है रैना वापसी जरूर करना चाहेंगे. सत्र अभी तक शुरू नहीं हुआ है और रैना को यह महसूस होगा कि वह क्या मिस कर रहे हैं और खासकर वह सारा पैसा (11 करोड़ प्रति सत्र) जो वह अब खोने जा रहे हैं.”

यह था विवाद

सुरेश रैना

यह बात सामने आई है कि जब से सीएसके 21 अगस्त को दुबई पहुंची है, रैना उस होटल के कमरे से खुश नहीं थे जो उन्हें दिया गया था. रैना कोरोना को लेकर कठोर प्रोटोकॉल चाहते थे और वह उसी तरह के कमरे की मांग कर रहे थे जो धौनी को दिया गया था. यह भी सामने आया कि टीम जिस होटल में क्वारंटाइन थी, वहां रैना के कमरे में उचित बालकनी नहीं थी.

धौनी, रैना को शांत नहीं कर सके और स्थिति हाथ से निकल गई. इसके अलावा सीएसके की टीम के दो खिलाड़ियों समेत कुल 13 सदस्य जब कोरोना पॉजिटिव पाए गए तो रैना का भय और भी ज्यादा बढ़ गया था.