Ricky Ponting
Ricky Ponting

ऑस्ट्रेलिया के सबसे सफल कप्तान रिकी पोंटिंग (Ricky Ponting) ने टीम इंडिया के विस्फोटक बल्लेबाज दिनेश कार्तिक और ऋषभ पंत को लेकर बड़ा बयान दिया है. ये दोनों खिलाड़ी अपनी धुआंधार बैटिंग के चलते विश्व भर में चर्चा का विषय बने हुए हैं.ऑस्ट्रेलिया में अगले महीने टी20 विश्व कप खेला जाना है. जिससे पहले सभी टीमें एक दूसरे के साथ टी20 सीरीज खेल रही है.

हाल ही में भारत दौरे पर आई ऑस्ट्रेलियाई टीम को भारत के हाथों 3 मैचों की टी20 सीरीज में 2-1 से हार का सामना करना पड़ा है. इसी बीच ऑस्ट्रेलिया के पूर्व कप्तान पोंटिंग ने पंत या DK में बड़ी प्रतिक्रिया दी है. उन्होंने बताया कि दोनों खिलाड़ियों में किसे टी20 विश्व कप 2022 में शामिल किया जाना चाहिए?

Ricky Ponting ने पंत और DK पर रखी अपनी राय

Ricky Ponting Contract with hobart Hurricanes

टीम इंडिया के विस्फोटक बल्लेबाज दिनेश कार्तिक और ऋषभ पंत दोनों को एक साथ टीम फिट कर पाना रोहित शर्मा एंड कंपनी के लिए गले की फांस बना हुआ है. प्लेइंग-11 में दोनों में खिलाड़ियों में किसी ना एक खिलाड़ी को बैंच गरम करना पड़ता है. तब जाकर किसी एक खिलाड़ी को मौका मिल पा रहा है.

ऐसा ही कुछ ऑस्ट्रेलिया सीरीज में देखने को मिला था पंत बाहर रहे तो DK खेल पाए. ऐसे में बड़ा सवाल यह कि क्या दोनों खिलाड़ियों आगामी टी20 विश्व कप में एक प्लेइंग-11 में शामिल किया जा सकता है. जिस पर ऑस्ट्रेलिया के सबसे सफल कप्तान रिकी पोंटिंग (Ricky Ponting) ने जवाब देते हुए कहा ,

“मुझे वास्तव में लगता है कि भारत की सर्वश्रेष्ठ टीम में ये दोनों खिलाड़ी (कार्तिक और पंत) हैं. मुझे परवाह नहीं है कि वे दोनों कीपर हैं, लेकिन मुझे लगता है कि उनकी बल्लेबाजी काफी है. मध्य क्रम में ऋषभ और फिनिशर के रूप में दिनेश, वे मेरे लिए बेहद खतरनाक लग रहे हैं.”

‘मैं सिर्फ ऋषभ का पक्ष लेने जा रहा हूं’

Ricky Ponting

रिकी पोंटिंग (Ricky Ponting) दिल्ली कैप्टिल्स के कोच है. जबकि युवा विकेटकीपर बल्लेबाज ऋषभ पंत (Rishabh Pant) दिल्ली की टीम के कप्तान है. ऐसे में पोंटिंग पंत को काफी करीब से जानते हैं. उन्होंने पंत को भविष्य में टीम इंड़िया का कप्तान तक कह डाला है. वही जब पंत और डीके में किसी टी20 विश्व कप में खिलाए जाने की बात आई तो उन्होंने अपने कप्तान पंत का पक्ष लिया. जिस पर उन्होंने अपनी राय रखते हुए कहा,

 ‘देखो, मैं सिर्फ ऋषभ का पक्ष लेने जा रहा हूं क्योंकि मुझे लगता है कि उसे दिनेश की तुलना में थोड़ा अधिक अवसर मिल सकता है.