l147 10401633086213

ऑस्ट्रेलिया के साथ हुई डे-नाईट टेस्ट मैच में भारतीय महिला क्रिकेट टीम के शानदार प्रदर्शन किया. इसके बाद भारत में महिलाओं के लिए रेड-बॉल की घरेलू सीजन को शुरू करने की मांग उठ रही है. ऑस्ट्रेलिया और भारत के बीच हुई पिंक बॉल टेस्ट ड्रा रहा. लेकिन भारतीय टीम ने ऑस्ट्रेलिया के ऊपर हमेशा दवाब बनाकर रखा. भारत के तरफ से पहली पारी में स्टार ओपनर बल्लेबाज स्मृति मंधाना ने शानदार शतक लगाया तो वही दूसरी पारी में युवा शेफाली वर्मा ने अर्धशतक जमाया.

भारत में महिलाओं के लिए रेड-बॉल की घरेलू सीजन होनी चाहिए शुरू

212505 rangaswamy

भारतीय महिला क्रिकेट टीम की पूर्व कप्तान शांता रंगास्वामी ने देश के घरेलू सर्किट में महिलाओं के लिए रेड-बॉल क्रिकेट को फिर से शुरू करने का पर्स्ताव दिया है. उन्होंने कहा,महिला टेस्ट खेलने के लिए अधिक टीमों को शामिल करने पर ध्यान केंद्रित किया जाना चाहिए. लंबे प्रारूप में खेलने वाले अधिक देशों पर ध्यान केंद्रित करना चाहिए. महिलाओं के लिए टेस्ट फिर से शुरू करने के लिए बीसीसीआई और जय शाह को यहां बधाई दी जानी चाहिए और इंग्लैंड और ऑस्ट्रेलिया के साथ हमारी श्रृंखला में यह नियमित रूप से होने की संभावना है.

टेस्ट क्रिकेट में ढलने के लिए घरेलू सर्किट होगी मददगार

India vs Australia 784x441 1

पीटीआई के हवाले से पूर्व कप्तान ने कहा, यदि भारत महिला टेस्ट की मेजबानी करता है, तो इसे एक छोटे जगहों में आयोजित किया जाना चाहिए ताकि अच्छी उपस्थिति हो और खिलाड़ियों को इस प्रारूप में ढलने के लिए लंबे समय तक घरेलू क्रिकेट को फिर से शुरू करने के लिए कहा जाए.  इससे पहले, भारत की कप्तान मिताली राज ने भी कहा था कि अगर राष्ट्रीय टीम नियमित रूप से टेस्ट खेलने जा रही है तो घरेलू रेड-बॉल क्रिकेट को भारत में फिर से शुरू करना होगा. आपको बता दू, दो दिवसीय रेड बॉल मैच 2018/19 सीज़न के बाद बंद कर दिए गए थे