virat kohli

RCB vs PBKS: शुक्रवार को रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर और पंजाब किंग्स एक बार फिर आपस में टकराने वाली है। इन दोनों टीमों के बीच भिड़ंत 13 मई को ब्रेबॉर्न स्टेडियम में शाम 7:30 देखने मिलेगी। ये मुकाबले बहुत ही दिलचस्प होने वाला है क्योंकि इस मुकाबले के जरिए बैंगलोर अपनी पिछली हार का बदला लेना चाहेगी, तो वहीं पंजाब एक बार फिर बैंगलोर पर हावी होने की हर मुमकिन कोशिश करेगी। तो आईए जानते हैं कि RCB vs PBKS की भिड़ंत के दौरान मौसम और पिच का हाल कैसा रहने वाला है।

RCB vs PBKS मैच के दौरान मौसम का हाल

rcb vs pbks

जैसे कि आप सब जानते ही हैं कि आईपीएल 2022 के मुकाबले मुंबई में खेले जाने है और मुंबई के मौसम से तो हर कोई अच्छी तरह वाकिफ है। किसे पता कब बारिश हो जाए! तो ऐसे में सबसे पहली चीज जो दिमाग में आती है वो है मौसम। ऐसे में रोमांचक मैचों के दौरान मौसम कैसा होगा, ये जानना और भी जरूरी हो जाता है। रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर और पंजाब किंग्स के बीच का मुकाबला मुंबई के ब्रेबॉर्न स्टेडियम में खेला जाएगा। आप सब भी इस हाईवोल्टेज मैच के दौरान मौसम कैसा होगा ये जानने में दिलचस्पी रखते होंगे।

तो आपको बता दें कि शुक्रवार को रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर और पंजाब किंग्स के बीच होने होने वाले मुकाबले में बारिश की कोई चिंता नहीं होगी क्योंकि मैच के दौरान बारिश होने की कोई सम्भावना नहीं है, लेकिन दर्शक और खिलाड़ियों को भीषण गर्मी का सामना करना पड़ेगा। तापमान 31 से 29 डिग्री सेल्सियस के बीच रहेगा। वहीं हवा 19 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से चलेगी। जबकि ह्यूमिडिटी 74 प्रतिशत होगी। मैच के दौरान काफी उमस होने वाली है।

RCB vs PBKS मैच की पिच रिपोर्ट

DC VS SRH

रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर और पंजाब किंग्स (RCB vs PBKS) के बीच मुंबई के ब्रेबॉर्न स्टेडियम (Brabourne Stadium) में होने वाले मैच की पिच (Pitch) की बात करें तो यह आमतौर पर बल्लेबाजी के लिए जानी जाती है। ब्रेबॉर्न  स्टेडियम में बल्लेबाजों को स्ट्रोक खेलना आसान होगा। यहां खेले गए मुकाबलों में देखा गया है कि बल्लेबाजी करने में खिलाड़ियों को ज्यादा दिक्कतों का सामना नहीं करना पड़ता है, इस पिच पर बड़ा स्कोर भी इस सीजन में बनते हुए देखा गया है।

यानी इससे एक बात स्पष्ट है कि मैदान पर लंबा स्कोर बन भी सकता है और वो आसानी से हासिल भी किया जा सकता है। विकेट बल्लेबाजों के अनुकूल रहेगी और आउट फील्ड बैटर्स को काफी मदद भी देगी। साथ ही स्पिन गेंदबाजों को भी पिच से मदद मिल सकती है। यहां दूसरी पारी में बल्लेबाजी करना टीम के लिए अच्छा निर्णय हो सकता है। लेकिन, पहली पारी वाली टीम भी अपने स्कोर को डिफेंड कर सकती है। वैसे टॉस जीतने वाली टीम पहले गेंदबाजी का फैसला ही करना चाहेगी।