Ravindra Jadeja

ICC T20 World cup 2021 के आखिरी लीग मुकाबलें (IND vs NAM) में भारतीय टीम ने नामीबिया के खिलाफ मिली 9 विकेट की शानदार जीत हासिल की. टीम के स्टार आलराउंडर रविन्द्र जडेजा (Ravindra Jadeja) इस जीत के सबसे बड़े हीरो रहे । जडेजा ने स्कॉटलैंड के बल्लेबाजो की ही तरह नामीबिया के बल्लेबाजों को भी अपनी फिरकी में फंसाया और 4 ओवर में अपने स्पेल में केवल 15 रन खर्च करते हुए 3 विकेट हासिल किये।

जिसकी बदौलत भारत ने नामीबिया को 132 रनों पर ही रोक दिया और रोहित (Rohit Sharma) और राहुल (KL Rahul) की शानदार बल्लेबाजी के दम पर लक्ष्य को केवल 1 विकेट खोकर पूरा कर लिया। जड्डू को उनके शानदार गेंदबाजी के लिए प्लेयर ऑफ़ द मैच चुना गया। यह उनका 2 मैचो में लगातार दूसरा प्लेयर ऑफ़ द मैच अवार्ड है।

जड्डू और अश्विन के फिरकी में फंसा नामीबिया, जीत के साथ भारत ने किया अंत

Ravindra Jadeja

अफगानिस्तान के खिलाफ न्यूजीलैंड की जीत के बाद सेमीफाइनल की रेस से बाहर हो चुकी भारतीय टीम नामीबिया के खिलाफ अपना आखी मुकाबला खेलने के लिए उतरी। बतौर कप्तान अपने आखिरी मुकाबलें में विराट कोहली (Virat Kohli) ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी चुनी। पहले बल्लेबाजी करने उतरी नामीबिया के बल्लेबाजों के लिए बुमराह की तेजी और जड्डू, आश्विन की फिरकी को समझने में काफी दिक्कत हुई और उन्होंने नियमित अंतराल पर विकेट गवाएं। जिसके कारण नामीबिया 20 ओवर के बाद 132 रनों तक ही पहुँच पायी। आश्विन (Ravichandran Ashwin) और जडेजा (Ravindra Jadeja) दोनों ने 3-3 विकेट हासिल किये. बुमराह के खाते में 2 विकेट रहा।

जवाब में रोहित और राहुल की जोड़ी ने मिलकर एक बार फिर से आक्रामक शुरुआत की। दोनों बल्लेबाजों ने मिलकर पहले विकेट के लिए 10 ओवर में 86 रन जोड़ दिए। रोहित ने 56 रन बनाया। उसके बाद राहुल ने सूर्यकुमार यादव (Suryakumar Yadav) के साथ मिलकर दुसरे विकेट के लिए 50 रनों की अटूट साझेदारी करके भारतीय टीम को ये मुकाबला 9 विकेट से जीता दिया। राहुल ने सीजन का लगातार तीसरा अर्धशतक लगाते हुए नाबाद 54 रन बनाए तो वही सूर्यकुमार यादव 25 रन बनाकर नाबाद रहे।

विराट एक अच्छे कप्तान रहे हैं: Ravindra Jadeja

Ravindra Jadeja

जडेजा (Ravindra Jadeja) को उनकी शानदार गेंदबाजी के लिए प्लेयर ऑफ़ द मैच (Player of The Match)चुना गया। सेमीफाइनल मुकाबलें के लिए क्वालीफाई ना करने का दुःख उनके चेहरे पर साफ़ झलक रही थी। पुरस्कार लेते समय उन्होंने अपनी गेंदबाजी, टीम के प्रदर्शन और बतौर कप्तान अपना आखिरी टी20 मुकाबला खेल रहे विराट कोहली (Virat Kohli) के बारे मे बात करते हुए कहा,

मुझे गेंदबाज़ी करने में मज़ा आया। सूखी गेंद के साथ गेंदबाज़ी करना अच्छा होता है। कुछ गेंदें घूम रही थी और कुछ सीधी रही। मैं अश्विन के साथ 10 सालों से खेलता आ रहा हूं और वह सफ़ेद गेंद के साथ अच्छी गेंदबाज़ी कर रहे हैं। विराट एक अच्छे कप्तान रहे हैं। वह हमेशा आक्रामक खेल खेलते हैं। रवि भाई, भरत भाई और श्रीधर भाई ने बहुत मेहनत की है। भविष्य में जो भी आएगा, हम उसके साथ यह लय बरकरार रखेंगे।