Team India, KL RAHUL
Team India

टीम इंडिया के लिए खेलना हर किसी खिलाड़ी का सपना होता है. यहां तक पहुंचने के लिए काफी संघर्ष करना पड़ता है. वैसे भी खिलाड़ियों की जर्नी काफी चुनौतियों से भरी होती है. जिसमें उतार-चढ़ाव देखने को मिलते हैं. आज हम आपको इस आर्टिकल में टीम इंडिया के ऐसे धुंरधर खिलाड़ी के बारे में बताएंगे.

जिसे टीम इंडिया का स्टार खिलाड़ी बनने के लिए कई कठिनाइयों से गुजरना पड़ा. महज 17 साल की उम्र में इस खिलाड़ी के सिर से मां का साया हट गया और पिता एक कंपनी में सिक्योरिटी गार्ड थे. उसके बावजूद भी टीम इंडिया के इस खिलाड़ी ने हार नहीं मानी.

पिता थे सिक्योरिटी गार्ड

ravindra jadeja sister
Ravindra Jadeja With sister

टीम इंडिया में एक खिलाड़ी की चर्चा सबसे ज्यादा होती है, क्योंकि यह खिलाड़ी बल्लेबाजी और गेंदबाजी दोनों में शानदार प्रदर्शन करने में सक्षम है और फील्डिंग के मामले में तो मानो उनका कोई सानी नहीं है. इस खिलाड़ी का नाम रवींद्र जडेजा (Ravindra Jadeja) है. उन्हें साथी खिलाड़ी प्यार से जड्डू के नाम से बुलाते हैं.

जडेजा टीम इंडिया के बेस्ट ऑलराउंडरों की लिस्ट में गिने जाते हैं. वहीं इनकी कामयाबी के पीछे काफी संघर्ष छिपा हुआ है. जड्डू के पिता अनिरुद्ध एक प्राइवेट सिक्योरिटी गार्ड थे और वे चाहते थे कि उनका बेटा एक आर्मी ऑफिसर बने, लेकिन किस्मत को कुछ और मंजूर था.

एक दुर्घटना में हो गया था मां का निधन

csk official says all is well amid rift rumours with ravindra jadeja

रवींद्र जडेजा (Ravindra Jadeja) उस समय 17 वर्ष के थे. जब उनके सिर से मां का साया छिन गया था. मां हमेशा अपने बच्चे को कामयाब होते हुए देखना चाहती है, लेकिन जडेजा की मां अपने जीते जी अपने बेटे की कामयाबी को ना देख सकीं. साल 2005 में जडेजा की मां लता एक दुर्घटना का शिकार हुईं, जिसमें उनकी मृत्यु हो गई.

जिसके बाद जड्डू ने क्रिकेट खेलना छोड़ दिया था, क्योंकि मां के निधन से वह काफी दुखी थे. मगर उनकी बड़ी बहन नैना ने जडेजा मां के सदमे से बाहर लाने में अहम योगदान दिया. जिसके बाद जडेजा ने फिर से क्रिकेट में रुचि दिखाते हुए दोबारा से खेलना शुरू कर दिया.

Ravindra Jadeja आज हैं क्रिकेट का बड़ा चेहरा

Ravindra Jadeja ENG vs IND 3rd ODI

टीम इंडिया के स्टार खिलाड़ी रवींद्र जडेजा (Ravindra Jadeja) आज क्रिकेट की दुनिया का बड़ा चेहरा हैं. उन्होंने अपने प्रदर्शन से फैंस के दिलों पर गहरी छाप छोड़ी है. जिसे भुला पाना बड़ा मुश्किल है. बता दें, जड्डू का क्रिकेटिंग सफर शानदार रहा है. उन्होंने 71 वनडे खेलकर  2447 रन बनाए.

इस दौरान 13 अर्द्धशतक भी देखने को मिले. वहीं गेंदबाजी में वनडे में 189 विकेट अपने नाम किए हैं. 60 टेस्ट में 2523 रन बनाकर 242 विकेट भी झटके हैं. टी20 में जडेजा अभी तक 60 मैच खेल चुके हैं. जिसमें उनके नाम 379 रन हैं और 48 विकेट हैं. बता दें कि, जडेजा आगामी टी20 विश्वकप में टीम इंडिया का अहम हिस्सा होंगे.