Ravindra Jadeja angry IPL 2022 GT vs CSK

Ravindra Jadeja: आईपीएल 2022 के 29वें मैच में गुजरात टाइटंस ने चेन्नई सुपर किंग्स को एक बेहद ही रोमांचक मुकाबले में 3 विकेट से हार थमाई थी। रविवार यानी 17 अप्रैल को पुणे के महाराष्ट्र क्रिकेट एसोसिएशन स्टेडियम में खेले गए इस मैच में टाइटंस के बल्लेबाज डेविड मिलर ने अपने दम पर ही टीम को जीत दिलाई थी। लेकिन उनकी पारी के दौरान शिवम दुबे ने मिलर का कैच छोड़ दिया था। इस बात से नाखुश होकर चेन्नई के कप्तान रवींद्र जडेजा (Ravindra Jadeja)  ने गुस्से में आकर मौजूदा समय में भारतीय कोच राहुल द्रविड के अंदाज में अपनी नाराजगी जाहिर की थी।

शिवम दुबे ने 17वें ओवर में छोड़ा था कैच

इस मैच में चेन्नई के द्वारा दिए गए लक्ष्य का पीछा कर रही गुजरात बिल्कुल हार की चौखट पर खड़ी हुई थी। डेविड मिलर के रूप में सिर्फ एक बल्लेबाज टाइटंस की उम्मीद कायम किये हुए मैदान में मौजूद था। इसी बीच पारी के 17वें ओवर में ड्वेन ब्रावो सिर्फ 4 रन खर्च करे हुए शानदार गेंदबाजी कर रहे थे।

इसी ओवर की तीसरी गेंद पर मिलर ने सिक्स मारने की फिराक में पुल शॉट लगाया और गेंद मिड विकेट की दिशा में हवा में खड़ी हो गई। इस पोजीशन पर फील्डिंग कर रहे शिवम दुबे गेंद को लपकने के लिए आगे भाग रहे थे।

Ravindra Jadeja ने गुस्से में आकर कैप पटकना चाही

Ravindra

लेकिन अचानक उनकी आँख में मैदान की फ़्लड लाइट पड़ी और वो गेंद को देख नहीं पाए। जिसके चलते दुबे भागते-भागते रुक गए, जिसके कारण गेंद उनसे लगभग 2 कदम की दूरी पर गिरी। इसको देखकर गेंदबाज ब्रावो गुस्से से तिलमिला उठे और जडेजा (Ravindra Jadeja) को फील्ड चेंज करने के लिए कहा गया।

वहीं जडेजा (Ravindra Jadeja) भी शिवम की इस हरकत पर आग बबूला हो गए थे मैदान में अपनी कैप को पटकना चाहा। अंत में इसी कैच का खामियाजा चेन्नई को 2 अंक गंवा कर भुगतना पड़ा, क्योंकि जब कैच छूटा तो मिलर 78 पर बल्लेबाजी कर रहे थे। इसके बाद उन्होंने 94 रनों की विस्फोटक पारी खेलते हुए अपनी टीम को जीत दिलाई।

2014 में राहुल द्रविड़ भी ऐसे ही हुए थे नाराज

Rahul Dravid uncharacteristically loses his cool after Rajasthan Royals' shocking ouster from IPL 2014 | Cricket Country

गौरतलब है कि साल 2014 में मुंबई इंडियंस बनाम राजस्थान रॉयल्स मैच के बाद तत्कालीन रॉयल्स के मेंटॉर राहुल द्रविड ने भी हार के बाद इसी तरह अपना गुस्सा जाहिर किया था। ये 2014 का आखिरी मुकाबला था, जहां मुंबई और राजस्थान के बीच प्लेऑफ़ में जगह बनाने के लिए जंग हो रही थी। रॉयल्स ने पहले बल्लेबाजी करते हुए मुंबई को 190 रनों का विशाल लक्ष्य दिया था।

मुंबई को प्लेऑफ़ का टिकट पाने के लिए इस लक्ष्य को 14.3 ओवर में हासिल करना था। इस मुकाबले में कोरी एंडरसन ने मुंबई की ओर से सबसे ज्यादा 95 रन की नाबाद पारी खेलते हुए 14.4 ओवर में ही आखिरी गेंद पर छक्का लगाकर नेट रनेरेट में इजाफा करते हुए प्लेऑफ़ में एंट्री कर ली। अपनी टीम की इस शर्मनाक हार के बाद डग आउट में बैठे राहुल द्रविड ने गुस्से से जमीन पर अपनी कैप फेंक दी थी।