Ravichandran Ashwin
Ravichandran Ashwin

टीम इंडिया के दिग्गज ऑफ स्पिनर रविचंद्रन अश्विन (Ravichandran Ashwin) आज भारत के सबसे सफल स्पिन गेंदबाजों में से एक हैं। उन्होंने नियमितता के साथ भारत के लिए बड़ी-बड़ी जीत में योगदान दिया है। मगर इस खिलाड़ी के दिल में 2018 ऑस्ट्रेलिया दौरे को लेकर जो गुबार था, वो अब शब्दों के माध्यम से बाहर आया है। उन्होंने खुलासा किया है कि कुलदीप यादव के फाइफर लेने के बाद उनकी अनदेखी हुई थी, जिससे वह काफी निराश थे।

अनदेशी से Ravichandran Ashwin थे निराश

Ravichandran Ashwin

भारतीय स्टार गेंदबाज Ravichandran Ashwin ने 2018 ऑस्ट्रेलिया दौरे के बारे में खुलकर बात की है, जब उन्हें महसूस हुआ कि उनकी अनदेखी की जा रही है। दरअसल, कुलदीप यादव के पांच विकेट लेने के बाद रवि शास्त्री ने कहा था कि विदेशों में वह भारत के नंबर वन स्पिनर हैं। साथ ही कहा था कि हर किसी का समय आता है। उस बायन से अश्विन को महसूस हुआ कि उनकी अनदेशी की जा रही है। सिडनी टेस्ट से पहले तक अश्विन और रवींद्र जडेजा ही विदेशों में स्पिनर की भूमिका निभाते थे. लेकिन 2018 के ऑस्ट्रेलिया दौरे पर कुलदीप को मौका मिला था। ईएसपीएन से बात करते हुए Ravichandran Ashwin ने कहा,

“मैंने रवि भाई (शास्त्री) को काफी सम्मान दिया। हम सब ऐसा करते हैं। और मेरा मानना है कि हम कुछ बातें कहते हैं और फिर उन्हें वापस ले लेते हैं। लेकिन उस एक पल में मैंने खुद को टूटा हुआ महसूस किया। पूरी तरह टूटा हुआ। हम सब बात करते हैं कि टीम के साथ की सफलता को एन्जॉय करना कितना जरूरी होता है। और मैं कुलदीप के लिए खुश था। मैं एक पारी में पांच विकेट नहीं ले पाया हूं लेकिन उसने लिए हैं। मुझे पता है कि यह कितनी बड़ी उपलब्धि है।

मैं नहीं ले सका पांच विकेट

आज Ravichandran Ashwin का नाम भारत के सबसे सफल टेस्ट गेंदबाजों में आता है। हाल ही में उन्होंने हरभजन सिंह को पीछे छोड़ते हुए सर्वाधिक टेस्ट विकेट लेने वाले गेंदबाजों की लिस्ट में तीसरा स्थान हासिल किया। अश्विन ने अब तक 167 मैचों में 427 विकेट हासिल किए हैं। लेकिन उन्हें ऑस्ट्रेलिया में 5 विकेट हॉल ना मिलने की कमी खलती है। दिग्गज स्पिनर ने कहा,

“कई मौकों पर मैंने अच्छी गेंदबाजी की लेकिन पांच विकेट नहीं ले पाया। इसलिए मैं उसके लिए काफी खुश हूं। और ऑस्ट्रेलिया में जीतना वैसे ही काफी खुशी भरा था। लेकिन यदि मैं टीम की उस खुशी और सफलता में शामिल होता हूं तब मुझे महसूस होना चाहिए कि मैं उसमें शामिल हूं। यदि मुझे महसूस होगा कि मुझे अकेला छोड़ दिया गया है तो फिर मैं कैसे टीम या टीम के साथी की सफलता की पार्टी को एन्जॉय कर पाऊंगा?”

फिर मनाई खुशी

Ravichandran Ashwin
Ravichandran Ashwin

कुलदीप यादव के आने से Ravichandran Ashwin को कहीं ना कहीं अनदेखा सा महसूस हुआ। लेकिन आखिर में उन्होंने बताया कि कुछ समय बाद उन्होंने पार्टी इंज्वॉय की, क्योंकि ये एक बड़ी जीत थी। भारत ने 70 साल के लंबे इंतजार के बाद 2018-19 में पहली बार ऑस्ट्रेलिया में टेस्ट सीरीज जीती थी। अश्विन ने कहा,

“मैं अपने कमरे में गया और फिर मैंने पत्नी से बात की। और मेरे बच्चे भी वहीं थे। इसलिए हम लोग ऐसी बातों को किनारे कर देते हैं और फिर भी मैं पार्टी में गया क्योंकि आखिरकार तो हमने एक बड़ी सीरीज जीती थी।”

सभी Cricket Match Prediction और Fantasy Tips प्राप्त करें CLICK HERE

Cricket Match PredictionIPL 2022 Auction | Today Match Fantasy Tips | Fantasy Cricket Tips | ICC Teams  Rankings| Cricket News and Updates | Cricket Live Score