Ravichandran Ashwin 3

भारतीय क्रिकेट टीम के दिग्गज स्पिन गेंदबाज रविचंद्रन अश्विन (Ravichandran Ashwin) का नाम काफी चर्चा में है। इसका कारण है उन्हें मौका ना मिलना। जी हां, अपने नंबर-1 स्पिनर को विराट कोहली ने नॉटिंघम टेस्ट में बेंच पर बैठाकर रखा और फिर अब लॉर्ड्स टेस्ट में भी उन्हें प्लेइंग इलेवन में मौका नहीं दिया है। तो आइए इस आर्टिकल में जानते हैं कि आखिर उन्हें इंग्लैंड में अब तक मौका क्यों नहीं मिल पाया है।

Ravichandran Ashwin को नहीं मिल रहा मौका

Ravichandran Ashwin

इंग्लैंड सीरीज में इस तरह लगातार स्टार स्पिनर Ravichandran Ashwin को मौका ना मिलना, वाकई काफी निराशाजनक है। सोशल मीडिया पर तो फैंस ने टीम मैनेजमेंट को उनके इस फैसले के लिए काफी खरी-खोटी भी सुनाई। मगर अब यदि बात करें, नॉटिंघम टेस्ट की, तो वहां पिच पर भरपूर घास थी और कप्तान कोहली ने 4 तेज गेंदबाजों के साथ उतरने का फैसला किया और एक स्पिनर के तौर पर रविंद्र जडेजा को मौका दिया, क्योंकि उनकी बल्लेबाजी टीम में मूल जोड़ती है।

आखिरकार, विराट कोहली का फैसला सही भी साबित हुआ और चारों गेंदबाजों ने मिलकर पहली पारी में इंग्लैंड को 183 व दूसरी पारी में 303 पर ऑलआउट कर दिया। वहीं जडेजा ने खुद को साबित करते हुए अर्धशतकीय पारी खेलकर भारत के स्कोर को आगे बढ़ाने में मदद की। अब लॉर्ड्स में भी विराट अपनी उसी टीम के साथ उतरे, लेकिन शार्दुल के अनुपलब्ध होने पर उन्होंने इशांत शर्मा को तेज गेंदबाजी विभाग में शामिल किया।

इंग्लैंड में कैसा रहा है अश्विन का प्रदर्शन

Ravichandran Ashwin

भारतीय क्रिकेट टीम के दिग्गज ऑफ स्पिन गेंदबाज Ravichandran Ashwin ने अब तक इंग्लैंड की सरजमीं पर 7 मैच खेले हैं, जिसमें उन्होंने 28.11 के औसत से 18 विकेट चटकाए हैं। वहीं लॉर्ड्स की बात करें, तो अब तक इस मैदान पर उन्होंने एक भी विकेट नहीं लिया है।

बताते चलें, मौजूदा समय में अश्विन शानदार फॉर्म में हैं और इस बात में संदेह नहीं है कि यदि उन्हें प्लेइंग इलेवन में मौका मिलता है, तो ना केवल अपनी शानदार गेंदबाजी बल्कि बल्लेबाजी को भी गहराई दे सकते हैं। हाल ही में इंग्लैंड की सरजमीं पर खेले गए WTC फाइनल में अश्विन ने 4 विकेट चटकाए थे। मगर टीम मैनेजमेंट इस सीरीज में लगातार उन्हें नजरअंदाज कर रही है।