Ravi Shastri in GT vs RR Final IPL 2022

भारतीय टीम के पूर्व हेड कोच रवि शास्त्री (Ravi shastri) एक बार फिर अपने बोल्ड बयान को लेकर सुर्खियों में हैं. उन्होंने टी-20 फॉर्मेट में होने वाली सीरीज को बंद करने की सलाह दी है. उनके इस बयान ने फैंस के बीच बहस छेड़ दी है. क्योंकि, फैंस टी-20 क्रिकेट को खासा पसंद करते हैं. इसमें चौके-छक्कों की बरसात देखने को मिलती है.

Ravi Shastri ने दी ये अनोखी सलाह

Ravi Shastri on arshdeep singh
Ravi Shastri

भारतीय टीम के पूर्व हेड कोच रवि शास्त्री (Ravi shastri) अपने बेबाक अंदाज के लिए जाने जाते हैं. उन्होंने टी20 फॉर्मेट में होने वाली द्विपक्षीय सीरीजों पर निशाना साधा है. उनका मानना है कि अंतरराष्ट्रीय टीमों के बीच द्विपक्षीय सीरीजों के लिए नहीं है. बल्कि टी-20 फॉर्मेट वर्ल्ड कप तक सीमित रखना चाहिए. उन्होंने कहा कि भारतीय कोच के तौर पर पिछले छह-सात साल के कार्यकाल के दौरान विश्व कप को छोड़कर एक भी टी20 मैच याद नहीं है. शास्त्री ने ‘ईएसपीएनक्रिकइंफो’ से कहा कि,

‘टी20 में काफी द्विपक्षीय क्रिकेट हो रहा है. मैंने यह पहले भी कहा है, यहां तक कि जब मैं भारतीय टीम का कोच था तब भी.यह मेरे सामने हो रहा था. यह टी20 क्रिकेट फुटबॉल की तरह से होना चाहिए जहां, आप सिर्फ वर्ल्ड कप खेलते हो. द्विपक्षीय टूर्नामेंट को कोई याद नहीं रखता’ 

‘आईपीएल के 2 चरण हो सकते हैं’

IPL 2022 All Awards in Season

भारत और दक्षिण अफ्रीका के बीच 9 जून से पांच मैचों की टी20 इंटरनेशनल सीरीज खेली जाने वाली है. उससे पहले रवि शास्त्री (Ravi shastri) ने टी-20 सीरीज पर निशाना साध दिया है. टी-20 में काफी द्विपक्षीय क्रिकेट को ज्यादा महत्व दिया जाने लगा. जिन्हें बंद कर दिया जाना चाहिए. वहीं आईपीएल टूर्नामेंट का विस्तार किया जा सकता है. रवि शास्त्री ने आगे कहा कि,

मुझे लगता है कि भविष्य में प्रत्येक कैलेंडर वर्ष में आईपीएल के दो चरण हो सकते हैं और यह भी ज्यादा दूर की बात नहीं है. आगे यह हो सकता है. 140 मैचों को 70-70 में बांट दिया जाए, दो सत्र में. आप कुछ नहीं कह सकते.’ 

Rubin Ahmad

रूबिन अहमद, क्रिकेट एडिक्टर ऑनलाइन में असिस्टेंट न्यूज एडिटर हैं. दिल्ली विश्वविद्यालय...