Ravi Shastri 123

वर्तमान में भारतीय टीम के लिए मुख्य कोच का कार्य करने वाले और पूर्व में भारतीय टीम के लिए सलामी बल्लेबाजी कर चुके रवि शास्त्री (Ravi Shastri)ने अपना करियर एक बल्लेबाज के रूप में शुरू किया था और फिर कुछ समय पश्चात स्पिज गेंदबाजी भी करने लगे थे. मतलब टीम के लिए एक आलराउंडर की भूमिका निभाने वाले रवि शास्त्री आज 59 वर्ष के हो चुके हैं.

जी भारतीय टीम के मुख्य कोच रवि शास्त्री का आज 27 मई को जन्मदिन है. मुंबई के इस खिलाड़ी ने सिर्फ 30 वर्ष में ही क्रिकेट को अलविदा कह दिया था. 1985 में खेले गए बेंसन एंड हेजेज वर्ल्ड चैम्पियनशिप में रवि शास्त्री को ‘चैम्पियन ऑफ चैम्पियंस’ के भी ख़िताब मिला था. 80 टेस्ट मैचों में 3830 और 150 एकदिवसीय मैचों में 3108 रन बनाने वाले इस दिग्गज खिलाड़ी और कोच के बारे में आइये कुछ रोचक बातों के बारे में जानते हैं.

रवि शास्त्री (Ravi Shastri)

 Ravi Shastri के जीवन से जुड़ी कुछ मजेदार बातें

1. Ravi Shastri ने महज 17 साल की उम्र में उन्होंने रणजी डेब्यू किया. आपको जानकर हैरानी होगी कि जब रवि शास्त्री कॉलेज में पढ़ते थे तभी उनको टीम इंडिया में खेलने का मौका मिल गया था.

2. रवि शास्त्री ने अपने डेब्यू टेस्ट की दोनों पारियों में 3-3 विकेट चटकाए. दूसरी पारी के 3 विकेट शास्त्री ने सिर्फ 4 गेंदों में लिये थे.

3. रवि शास्त्री (Ravi Shastri) ने अपने टेस्ट करियर का आगाज नंबर 10 के बल्लेबाज के तौर पर किया था लेकिन सिर्फ 2 साल के अंदर वो टीम इंडिया के टेस्ट ओपनर बन गए. शास्त्री ने बतौर ओपनर टेस्ट क्रिकेट में 17 मैचों में 44 से ज्यादा की औसत से 1101 रन ठोंके. बतौर ओपनर रवि शास्त्री ने 4 टेस्ट शतक लगाए जिसमें एक दोहरा शतक भी शामिल था.

ravi babu

4. Ravi Shastri 6 गेंदों पर 6 छक्के लगाने वाले पहले भारतीय क्रिकेटर हैं. साल 1985 में उन्होंने बड़ौदा के खिलाफ रणजी ट्रॉफी मैच में 6 गेंद पर 6 छक्के लगाने का कारनामा किया. ये कारनामा उन्होंने तिलक राज की गेंद पर किया. रवि शास्त्री ने इस मुकाबले में महज 80 गेंदों में शतक लगाया और उसके बाद अगले 100 रन उन्होंने सिर्फ 43 गेंदों में बना दिये थे.

5. बॉलीवुड में भी रवि शास्त्री (Ravi Shastri) का डंका बजता था. अपने समय में भारतीय क्रिकेट के पोस्टर बॉय बने शास्त्री का अभिनेत्री अमृता सिंह के साथ काफी वक्त तक अफेयर रहा.

6. रवि शास्त्री को अर्जेंटीना की टेनिस स्टार गैब्रियला सबातिनी के दीवाना नामा जाता था. ऐसा कहा जाता है कि रवि शास्त्री गैब्रियला से मिलने अर्जेंटीना जा पहुंचे थे.

shastri

 

7. भारतीय टीम ने मार्च 1985 में बेंसन एंड हेजेज वर्ल्ड चैम्पियनशिप कप पर कब्जा किया था. रवि शास्त्री को बेहतरीन ऑलराउंड प्रदर्शन के लिए ‘चैम्पियन ऑफ चैम्पियंस’ का खिताब दिया गया. उन्होंने उस ‘मिनी वर्ल्ड कप’ टूर्नामेंट के 5 मैचों में 45.50 की औसत से 182 रन बनाए और 20.75 की औसत से 8 विकेट भी चटकाए थे.

8. Ravi Shastri के नाम एक ऐसा वर्ल्ड रिकॉर्ड जुड़ा, जो 33 साल तक कायम रहा. शास्त्री ने जनवरी 1985 में फर्स्ट क्लास क्रिकेट का सबसे तेज दोहरा शतक (200*) अपने नाम किया था. उन्होंने महज 113 मिनट में दोहरा शतक पूरा कर यह कारनामा किया. अब यह रिकॉर्ड अफगानिस्तान के शफीकउल्लाह के नाम है, जिन्होंने 2017-18 में काबुल रीजन की ओर से खेलते हुए 103 मिनट में दोहरा शतक पूरा किया.