Ravi Shastri

भारतीय टीम के पूर्व कोच रवि शास्त्री (Ravi Shastri) कोच पद से हटने के बाद से अक्सर अपने बयानों के कारण चर्चा में चल रहे हैं. विराट कोहली (Virat Kohli) और सौरव गांगुली (Saurav Ganguly) के बीच चल रहे विवाद पर शास्त्री (Ravi Shastri) लगातार कुछ न कुछ बयान देते आये हैं. अब रवि शास्त्री का एक और बड़ा बयान सामने आ रहा है. हालाँकि ये विराट या गांगुली से जुड़ा नहीं है. बल्कि उनका ये बयान भारत में क्रिकेट में हो रहे सट्टेबाजी से जुड़ा हुआ है.

भारत में खेल सट्टेबाजी को वैध बनाने के समर्थन में है रवि शास्त्री

Ravi Shastri

टीम इंडिया (India Cricket team) के पूर्व कोच रवि शास्‍त्री (Ravi Shastri) ने कहा कि वह भारत में खेल सट्टेबाजी को वैध बनाने के समर्थन में है. शास्त्री ने  कहा कि वह खेल में सट्टेबाजी को कानूनी बनाने के पक्ष में हैं. उन्होंने कहा, मेरे ख्‍याल से यह सरकार को गजब का राजस्‍व देगा. टैक्‍स के मामले में यह इस पल दुनिया का जरिया है. आज जितना ज्‍यादा इसे रोकने की कोशिश करोगे, यह अन्‍य चैनलों से आपके मुंह पर आएगा. मेरे ख्‍याल से यह बहुत जरूरी है कि इसे सही तरीके से कानूनी बनाया जाए और आधिकारिक व सही तरीके से करने के लिए यह अच्‍छा मंच है.

भारत में अवैध है सट्टेबाजी

sports-betting-in-india

भारत में इस समय खेल सट्टेबाजी गैरकानूनी है. 2018 में, भारत के विधि आयोग ने खेलों में विनियमित सट्टेबाजी और जुआ जैसी गतिविधियों को वैध बनाने की सिफारिश की थी. इसमें यह भी कहा गया कि बीसीसीआई (BCCI) के प्रयास ‘अवैध और भूमिगत सट्टेबाजी के खतरे से निपटने के लिए अप्रभावी और अपर्याप्त हैं.

गेंबलिंग एंड स्‍पोर्ट्स बेटिंग इन्‍क्‍लूडिंग इन क्रिकेट इन इंडिया नामक रिपोर्ट में कहा गया, ‘पूर्ण प्रतिबंध लगाने में नाकाम रहने का परिणाम यह है कि गैरकानूनी गैंबलिंग बढ़ गई है. इससे काला धन बढ़ रहा है और जगह-जगह घूम रहा है. इस तरह की गतिविधियों को पूरी तरह हटाने की संभावना नहीं है तो इसे लागू करना सही विकल्‍प नजर आता है.