रवि शास्त्री

टीम इंडिया के मुख्य कोच रवि शास्त्री (Ravi Shastri) व उनके सहयोगी स्टाफ का कार्यकाल टी20 विश्व कप के बाद खत्म हो जाएगा। इस बीच खबरों के हवाले से पता चला है कि शास्त्री खुद अपने कॉन्ट्रैक्ट को आगे नहीं बढ़ाना चाहते हैं और वह टीम इंडिया से दूर होना चाहते हैं। अब अध्यक्ष सौरव गांगुली और सचिव जय शाह का लॉर्ड्स पहुंचने के बाद माना जा रहा है कि इसी टेस्ट मैच के दौरान हो जाएगा।

Ravi Shastri के भविष्य पर हो सकता है फैसला

RAVI SHASTRI

लॉर्ड्स के ऐतिहासिक मैदान पर जहां एक तरफ इंग्लैंड और भारतीय टीम के खिलाड़ी मैच को अपने नाम करने की जुगत में लगे हैं। तो वहीं मैदान से बाहर भी एक मुद्दा है, जिसपर सभी की निगाहें टिकी हुई हैं। भारतीय टीम के मुख्य कोच Ravi Shastri के कार्यकाल को लेकर इन दिनों काफी चर्चा चल रही है।

इंडियन एक्सप्रेस की एक रिपोर्ट के मुताबिक हेड कोच रवि शास्त्री टी20 वर्ल्ड कप के बाद टीम इंडिया से अलग होना चाहते हैं। शास्त्री और उनके सहयोगी भरत अरुण, आर श्रीधर और बल्लेबाजी कोच विक्रम राठौड़ भी टी20 वर्ल्ड कप के बाद टीम इंडिया को अलविदा कहना चाहते हैं। इनसाइड स्पोर्ट की खबर के मुताबिक, बीसीसीआई सूत्रों ने जानकारी दी है कि इस मुद्दे पर कहना अभी जल्दबाजी होगी लेकिन बीसीसीआई अध्यक्ष और सचिव और दूसरे अधिकारी लंदन पहुंचे हुए हैं। तो वह शास्त्री और टीम से उनके और टीम के भविष्य पर जरूर चर्चा करेंगे।

राहुल द्रविड़ के नाम पर हो सकती है चर्चा

Ravi Shastri

Ravi Shastri सहित सभी सपोर्टिंग स्टाफ का कार्यकाल भी टी20 विश्व कप के बाद समाप्त हो जाएगा। ऐसे में खबरें आ रही हैं कि बीसीसीआई भी एक नया कोचिंग स्टाफ चाहती है। हाल ही में शिखर धवन की कप्तानी वाली टीम ने श्रीलंका का दौरा किया था, तब टीम की कोचिंग की जिम्मेदारी राहुल द्रविड़ ने ही संभाली थी। इसलिए अब जबकि शास्त्री के विकल्प की तलाश होगी, तो यकीनन सभी राहुल द्रविड़ के नाम पर विचार करेंगे।

हालांकि श्रीलंका सीरीज के बाद जब द्रविड़ से भारत के मुख्य कोच बनने को लेकर सवाल पूछा गया था, तो उन्होंने कहा था कि वह जो कर रहे हैं, उसी में खुश हैं और उन्होंने इस बारे में कुछ भी नहीं सोचा है। बता दें, श्रीलंका दौरे पर भारत को वनडे सीरीज में 2-1 से जीत व T20I सीरीज में 1-2 से हार मिली थी।