rishabh pant

भारतीय क्रिकेट टीम के विकेटकीपर बल्लेबाज ऋषभ पंत (Rishabh Pant) ने मैनचेस्टर के मैदान में इंग्लैंड के खिलाफ शतक जड़कर खूब सुर्खियां बटोरी है। उन्होंने अपनी इस पारी से आलोचकों के मुंह पर ताला लगा दिया है। ऋषभ पंत की महज 113 गेंदों में 125 रनों की नाबाद पारी से मिली इस जीत की तुलना साल 2002 की नेटवेस्ट ट्रॉफी से भी की जाने लगी है। विश्व के तमाम दिग्गज पंत की इस पारी की जमकर तारीफ कर रहे हैं। लेकिन इसी बीच पाकिस्तान के पूर्व कप्तान राशिद लतीफ़ ने ऋषभ पंत पर चुटकी ली है।

Rishabh Pant को लेकर राशिद लतीफ़ का अटपटा बयान

Rishabh Pant

टेस्ट फॉर्मेट में ऋषभ पंत (Rishabh Pant) टीम इंडिया के सबसे बड़े मैच विनर है। लेकिन लिमिटेड ओवर फॉर्मेट में वे अपनी काबिलियत के अनुसार प्रदर्शन नहीं कर पाए थे। इंग्लैंड के खिलाफ शतकीय पारी के बाद ऋषभ पंत को लेकर कई लोगों का नजरिया बदल गया है।

हर कोई उनकी तारीफ में कसीदे पढ़ने से पीछे नहीं हट रहा है। लेकिन राशिद लतीफ़ ने ऋषभ पंत को लेकर चाइनीज समान के लिए इस्तेमाल किया जाने वाला एक फेमस डायलॉग बोल दिया है। लतीफ़ ने अपने यूट्यूब चैनल के माध्यम से कहा,

”वह (पंत) चला तो चांद तक नहीं तो शाम तक। ये बात हम सब जानते हैं। बटलर से जो स्टंपिंग मिस हुई उसका उसने पूरा फायदा उठाया। मैं यह जरूर कहूंगा कि उनकी बल्लेबाजी बेहतरीन थी, खासकर तेज गेंदबाजों के खिलाफ, जो संतुलन उन्होंने अपने प्रदर्शन में दिखाया। और यह पहली बार नहीं है जब हमने ऐसा देखा है।”

“पंत टीम को मुश्किल से बाहर निकालते हैं” – राशिद लतीफ़

Rashid Latif - Wikipedia

ऋषभ पंत (Rishabh Pant) की अहम पारियां दबाव की स्थति में आई है, चाहे गाबा हो या मैन्चेस्टर में इंग्लैंड के खिलाफ ये शतक। इस खिलाड़ी ने हमेशा ही टॉप ऑर्डर के फेल होने के बाद टीम के लिए महत्वपूर्ण रन बनाए हैं। राशिद लतीफ़ ने भी इस बात पर हामी भरते हुए कहा कि ऋषभ पंत टीम इंडिया के लिए बड़े मैच के खिलाड़ी है। उन्होंने कहा,

“लोग कभी-कभी उनकी बल्लेबाजी पर सवाल उठाते हैं। लेकिन जब वह इस तरह की इनिंग खेलते हैं तो कोई उनका अनुकरण नहीं कर पाते। कुल मिलाकर उनकी बल्लेबाजी ऐसी है कि कभी-कभी वह टीम को मुश्किल परिस्थिति से बाहर निकाल लेते हैं।”

Rishabh Pant की पारी को हमेशा रखा जाएगा याद

England vs India: Unexpected but brilliant decision to open with Rishabh Pant in 2nd T20I, says Sanjay Manjrekar - Sports News

अब लौट कर इंग्लैंड के खिलाफ ऋषभ पंत (Rishabh Pant) की शतकीय पारी के बारे में बात करें तो, 260 रनों के लक्ष्य का पीछे करते हुए जब वे बल्लेबाजी करने के लिए आए थे तो टीम इंडिया ने सिर्फ 21 रन के स्कोर पर 2 बल्लेबाजों को गंवा दिया था।

इस स्थिति में पंत ने संभालकर रन बनाने से शुरुआत की और अंत में अपने विस्फोटक अंदाज में खेलना शुरू कर दिया। 113 गेंदो का सामना करते हुए ऋषभ ने 125 रन बनाए। जिसमें 16 चौके और 2 छक्के शामिल थे, उनकी ये पारी किसी भी भारतीय विकेटकीपर के द्वारा इंग्लैंड के खिलाफ उन्हीं की धरती पर खेली गई सर्वश्रेष्ठ पारी है।

One reply on ““चला तो चांद तक, नहीं तो शाम तक”, Rishabh Pant को लेकर ये क्या बोल गए पूर्व पाकिस्तानी कप्तान”

Comments are closed.