Kumar Kushagra

Ranji Trophy 2021-22: रणजी ट्रॉफी के इस साल के सीज़न में कई बल्लेबाज़ों ने बड़े-बड़े शतक जड़े हैं. जिसमें यश धुल, सरफ़राज़ खान, शाहरुख़ खान आदि जैसे खिलाड़ियों का नाम शुमार है. इसी के साथ झारखंड और नागालैंड के बीच कोलकाता के ईडन गार्डन्स में रणजी ट्रॉफी (Ranji Trophy) का प्री क्वाटर फ़ाइनल मुकाबला खेला जा रहा है. जिसमें झारखंड के बल्लेबाज़ों ने तहलका मचा रखा है. झारखंड ने नागालैंड के सामने 769 रन का बड़ा स्कोर बना दिया. जिसमें दो बल्लेबाज़ों ने शतक और एक ने दोहरा शतक जड़ा है.

Ranji Trophy में झारखंड के बल्लेबाज़ों ने ढाया कहर

Virat singh-Shahbaz Nadeem

आपको बता दें कि रणजी ट्रॉफी 2021-22 (Ranji Trophy 2021-22) के इस सीज़न के प्री क्वाटर फाइनल मुकाबले में नागालैंड ने झारखंड के खिलाफ टॉस जीत कर पहले गेंदबाज़ी करने का फैसला किया था. जोकि अब उन्हें काफी महंगा साबित हो रहा है. दरअसल झारखंड के बल्लेबाज़ों ने पहली पारी में बहुत ही ज़बरदस्त अंदाज़ में बल्लेबाज़ी की है.

झारखंड के विराट सिंह और शाहबाज़ नदीम ने इस मुकाबले की पहली पारी में शतक जड़ा है जबकि कुमार कुशाग्र ने दोहरा शतक जड़ा है. जिसकी बदौलत इस वक्त टीम 750 रन से ज़्यादा रन बना चुकी है. ग़ौरतलब है कि 2 दिन के खेल के बाद भी झारखंड इस मैच में अब तक ऑल आउट नहीं हुआ है. झारखंड ने अब तक 177 ओवर खेले हैं, जिसमें उन्होंने बोर्ड पर विशाल 769 रन का स्कोर लगा दिया है.

कुशाग्र, विराट और शाहबाज़ का जमकर बोला बल्ला

Kumar Kushagra-Ranji Trophy

विकेटकीपर बल्लेबाज़ कुमार कुशाग्र ने नागालैंड के खिलाफ चल रहे प्री क्वाटर फाइनल मुकाबले में सबसे ज़्यादा रन बनाए हैं. उन्होंने 270 गेंदों का सामने करते हुए 266 रन बनाए हैं. जिसमें 37 चौके और 2 छक्के शामिल हैं. वहीं इनके अलावा विराट सिंह ने भी 153 बॉल खेलते हुए 107 रन बनाए हैं. इस दौरान उनके बल्ले से 13 चौके निकले.

जबकि शाहबाज़ नदीम ने 223 गेंदों में ज़बरदस्त शतकीय पारी खेलते हुए 123 रन बनाए हैं और वो खेल के दूसरे दिन भी ड्रेसिंग रूम में नाबाद लौटे हैं. ऐसा अनुमान लगाया जा रहा है कि झारखंड तीसरे दिन की सुबह अपनी पारी घोषित कर देगी और नागालैंड को खेलने के लिए बुलाएगी.

इसके अलावा बता दें कि झारखंड ने नागालैंड के खिलाफ इतना बड़ा स्कोर इसलिए खड़ा किया है क्योंकि बीसीसीआई के नियम के अनुसार, जो टीम रणजी ट्रॉफी (Ranji Trophy) में पहली इनिंग में ज़्यादा रन बनाती है, उसे मैच ड्रॉ पर ज़्यादा पॉइंट्स दिए जाते हैं. ऐसे में नॉकआउट मुकाबले में विपक्षी टीम आगे क्वालीफाई नहीं कर पाएगी और टूर्नामेंट से बाहर हो जाएगी.