Ranji Trophy Final End Of Day -3

Ranji Trophy Final: मध्यप्रदेश और मुंबई के बीच जारी रणजी ट्रॉफी 2022 के फाइनल मुकाबले के तीसरे दिन का खेल खत्म हो चुका है। बैंगलोर के एम. चिन्नास्वामी स्टेडियम में जारी इस मैच का निर्णय अब मध्यप्रदेश की ओर झुकता जा रहा है। मुंबई ने अपनी पहली पारी में सरफराज खान के शतक के बूते 374 रन बनाए थे, जिसका पीछा करते हुए मध्यप्रदेश ने सिर्फ 3 विकेट के नुकसान पर 368 रन बना लिए हैं, लिहाजा मध्यप्रदेश की टीम अभी सिर्फ 6 रन से पीछे हैं और क्रीज पर रजत पाटीदार और आदित्य श्रीवास्तव जमे हुए हैं।

यश दुबे और शुभम शर्मा ने जड़ा शतक

Yash Dube MP

मध्यप्रदेश को Ranji Trophy Final में मुंबई के खिलाफ मजबूत स्थति में लाने के लिए यश दुबे और शुभम शर्मा ने एड़ी चोटी का जोर लगाते हूए शानदार पारियां खेली है। दोनों ही बल्लेबाजों ने मुंबई के गेंदबाजों पर दबाव बनाए रखा था। सिर्फ 47 रन के स्कोर पर 47 के स्कोर पर पहला विकेट गिरनए के बाद यश और शुभम के बीच 222 रनों की साझेदारी हुई।

यश दुबे ने 336 गेंदों पर 133 रन में 14 चौके लगाए जबकि शुभम ने 215 गेंदों पर 116 रन में 15 चौके और एक छक्का लगाया। दोनों ही बल्लेबाजों को रोकने के लिए मुंबई ने भी हर मुमकिन कोशिश की। 90वें ओवर में शम्स मुलानी ने शुभम को आउट किया था। इसके बाद 112वें ओवर में मोहित अवस्ती ने यश को चलता किया था।

रजत पाटीदार ने भी अर्धशतक जमाकर दिया योगदान

Rajat Patidar Fifty in Ranji Final

यश दुबे और शुभम शर्मा के पवेलियन लौटने के बाद मध्यप्रदेश के धाकड़ बल्लेबाज रजत पाटीदार (Rajat Patidar) ने Ranji Trophy Final मुकाबले में आतिशी अंदाज में बल्लेबाजी की है। इस टूर्नामेंट में अपने जीवन के सबसे बेहतरीन फॉर्म में नजर आ रहे रजत ने महज 44 गेंदों में अपना अर्धशतक पूरा किया और दिन के अंत तक उन्होंने 106 गेंदों में 13 चौकों की मदद से नाबाद 67 रन बनाए, उनका साथ देने के बाद कप्तान आदित्य श्रीवास्तव भी मौजूद है। दोनों बल्लेबाजों के बीच 27 रन की साझेदारी हो चुकी है।

Ranji Trophy Final: मध्यप्रदेश के जीतने की संभावनाएं बढ़ी

Ranji Trophy 2022 Madhya Pradesh reached in to final after 23 years will face Mumbai in Title Clash-Ranji Trophy 2022: बंगाल को पटखनी देकर 23 साल बाद रणजी ट्रॉफी फाइनल में पहुंचा मध्यप्रदेश | Cricket

इसके साथ ही आपको बता दें कि मध्यप्रदेश अगर मुंबई के द्वारा बनाए गए पहली पारी के स्कोर 374 को पार करने में कामयाब हो जाती है तो इस टीम के जीतने के आसार बढ़ जाएंगे। क्योंकि रणजी ट्रॉफी के नियम के अनुसार अगर निर्णायक मुकाबला ड्रॉ रहता है तो दोनों टीमों की पहली पारी के आधार पर विजेता घोषित किया जाएगा। फिलहाल मुंबई इस मामले में पिछड़ी हुई नजर आ रही है और मध्यप्रदेश खिताब की दावेदार बन गई है।

One reply on “Ranji Trophy Final: मध्यप्रदेश ने बढ़ाया खिताब की ओर पहला कदम, तीसरे दिन के अंत तक मुंबई बैकफुट पर”

Comments are closed.