साल 2015 के एकदिवसीय विश्व कप के दौरान खेला गया भारत और पाकिस्तान का मैच आज तक खेल प्रेमियों को बहुत अच्छे से याद है. एडिलेड के मैदान पर खेला गया मैच किसी फाइनल से कम ना था. इस मैच को धोनी एंड कंपनी ने पूरे 76 रनों से जीतकर अपने नाम किया था.

पाकिस्तान के खिलाफ मिली जीत में विराट कोहली (107), शिखर धवन (73) और सुरेश रैना (74) ने काबिले तारीफ पारियां खेली थी. मैच में भले ही कोहली ने शतक लगाया हो, लेकिन रैना की पारी भी किसी शतक से कम न थी.

पारी के पीछे की कहानी आई सामने

इस मैच में सुरेश रैना ने मात्र 56 गेंदों का सामना करते हुए जबरदस्त 74 रन बनाये थे. अपनी पारी में रैना ने पांच चौके और तीन छक्के भी जड़े थे. आप सभी को बता दे, कि टूर्नामेंट में नंबर 4 की भूमिका अजिंक्य रहाणे को निभानी थी, लेकिन इस मैच में कप्तान एमएस धोनी ने रैना को बल्लेबाजी के लिए प्रमोट किया.

दरअसल उस समय धवन और कोहली के बीच एक जबरदस्त साझेदारी चल रही थी और तभी धोनी ने अचानक से रैना के पास आकर कहा ‘पैड अप’. हाल में ही निखिल नाज के साथ एक लाइव चैट के दौरान सुरेश रैना अपनी इस पारी के पीछे की एक दिलचस्प कहानी बताई. रैना ने कहा,

”मैंने धोनी के फैसले पर कोई सवाल नहीं किया. मुझे याद है कि उस समय पाकिस्तान के खिलाफ 2015 के विश्व कप में मैं सैंडविच खा रहा था या और कुछ कर रहा था. तभी अचानक से 20 ओवर पूरे होने के बाद धोनी मेरे पास आये और बोले ‘पैड-अप’, मैं रेडी हो गया.

उस समय विराट बहुत ही शानदार बल्लेबाजी कर रहे थे और कुछ ही देर बाद धवन रन आउट हो गये. तो इसके चलते मुझे नंबर 4 पर खेलने का मौका मिला. मैंने बिना दबाव के बल्लेबाजी की और 70 से 80 रन बनाये.”

बाद में धोनी ने बताई थी वजह

मैच में विराट कोहली और सुरेश रैना ने तीसरे विकेट के लिए ताबड़तोड़ 110 रन जोड़े थे. रैना ने धोनी से मैच के बाद इसके पीछे की रणनीति के बारे में पूछा. रैना के अनुसार,

”मैच के बाद मैंने धोनी से बात की और पूछा की आपने मुझे ऊपर बल्लेबाजी के लिए क्यों भेजा था? उन्होंने कहा, ‘मुझे लगा था कि आप लेग स्पिनर को बहुत अच्छे से खेल पाओगे’. साथ ही धोनी ने मेरी बल्लेबाजी की तारीफ भी की.”

AKHIL GUPTA

क्रिकेट...क्रिकेट...क्रिकेट...इस नाम के अलावा मुझे और कुछ पता नहीं हैं. बस क्रिकेट से बेहद प्यार हैं. हमेशा से ही क्रिकेट के बारे में लिखना बहुत पसंद हैं. महेंद्र सिंह धोनी मेरे पसंदीदा खिलाड़ी हैं.