Rahul Dravid

इंग्लैंड के खिलाफ मिली हार न फैंस पचा पा रहे हैं, न ही क्रिकेट दिग्गज। इस हार के बाद टीम इंडिया के हेड कोच राहुल द्रविड़ (Rahul Dravid) सवालों के घेरे में आ गए हैं। इस टेस्ट के लिए रविचंद्रन अश्विन की जगह प्लेइंग इलेवन में शार्दुल ठाकुर को चुना गया था, जिसको लेकर फैंस हेड कोच राहुल द्रविड़ से कई सवाल कर रहे हैं। लेकिन राहुल ने इसको लेकर अब अपनी चुप्पी तोड़ दी और इसके पीछे की वजह सबको बताई।

Rahul Dravid ने बताया क्यों अश्विन को प्लेइंग 11 में नहीं दिया गया मौका?

Rahul Dravid

इंग्लैंड के खिलाफ मिली हार से भारतीय फैंस को बहुत बड़ा झटका लगा है। मैच के खत्म हुए एक दिन हो चुका है, लेकिन अब भी इंडियन फैंस इसको भुला नहीं पा रहे हैं। इस हार के बाद फैंस ने हेड कोच से सवाल किए हैं कि उन्होंने अश्विन की जगह प्लेइंग इलेवन में शार्दूल को क्यों जगह दी है। इसका जवाब देते हुए राहुल (Rahul Dravid) ने कहा,

टेस्ट मैच से अश्विन जैसे खिलाड़ी को बाहर रखना आसान नहीं होता है। मुझे लगता है कि जब हमने पहले दिन विकेट देखा, तो उस पर घास काफी अच्छी थी और हमें लगा कि इसमें तेज गेंदबाजों को काफी मदद मिलेगी। मुझे लगता है कि आखिरी दिन भी, विकेट वास्तव में नहीं घूमा, चाहे वो जैक लीच के लिए हो या रविन्द्र जडेजा के लिए।”

मैच के दौरान मौसम की भूमिका को लेकर Rahul Dravid ने दिया बयान

Rahul Dravid

हेड कोच राहुल द्रविड़ ने भी बताया कि पहले तीन दिनों में मौसम ने अहम भूमिका निभाई। राहुल ने कहा कि हमें जैसी उम्मीद थी, वैसे गेंदबाजी नहीं हुई। राहुल (Rahul Dravid) ने कहा,

“शुरुआत के तीन दिन मौसम ने अहम भूमिका निभाई। काफी समय तक सूरज की किरणें नहीं आईं। यही कारण है कि विकेट उतना नहीं टूट पाया, जितना टूटना चाहिए था। जितने स्पिन की उम्मीद थी, उतनी नहीं मिली। पांचवें दिन को देखकर कहना आसान था कि दूसरा स्पिनर होना अच्छा था। वास्तव में सही ठहराने के लिए यह पर्याप्त नहीं था।”

गौरतलब है कि इंग्लैंड और भारत (ENG vs IND) के बीच खेले गए टेस्ट मैच में अगर रविचंद्रन अश्विन को मौका दिया जाता तो बात कुछ और ही होती। शार्दूल ठाकुर ने न तो गेंदबाजी से अच्छा प्रदर्शन किया और न ही बल्ले से। वहीं, अश्विन को टीम में शामिल किया जाता तो टीम की गेंदबाजी और मजबूत हो सकती थी और टीम के मैच जीतने की संभावनाएं बढ़ जाती।