maxresdefau e1605333137751

आईपीएल 2020 का सीजन खत्म हो चुका है। अब अगले सीजन को लेकर बड़ी चर्चाएं शुरू हो चुकी है, जिसमें कहा जा रहा है कि अगले साल एक और टीम आईपीएल का प्रतिनिधित्व करते नजर आ सकती है। बीसीसीआई के इस फैसले के सपोर्ट में कई लोग आए। इसी क्रम में टीम इंडिया के पूर्व क्रिकेटर एवं राष्ट्रीय क्रिकेट अकादमी (एनसीए) के निर्देशक राहुल द्रविड़ ने भी बीसीसीआई के इस पहल की सराहना की।

आईपीएल के विस्तार के सपोर्ट में आए राहुल द्रविड़

fecf094843b2d59a40439ef778f39202

भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान राहुल द्रविड़ का मानना है कि आईपीएल देश में उपलब्ध प्रतिभाशाली खिलाड़ियों की संख्या और गुणवत्ता से समझौता किए बगैर अधिक टीमों के मामले में विस्तार करने के लिए तैयार है। राहुल द्रविड़ का कहना है कि अगर आईपीएल में अधिक टीमें होंगी तो अधिक प्रतिभाशाली खिलाड़ियों को अपनी प्रतिभा दिखाने का मौका मिलेगा।

राहुल द्रविड़ पिछले दिनों राजस्थान रॉयल्स के सह-मालिक मनोज बडाले की किताब ए न्यू इनिंग के आभासी लांच के दौरान कार्यक्रम का हिस्सा लेने पहुंचे थे। इसी दौरान उनसे आगामी आईपीएल सीजन के दौरान एक और नई टीम को लाने के बारे में उनका विचार मांगा गया तो उन्होंने इस पर समर्थन जताया।

द्रविड़ ने कहा युवा प्रतिभाशाली खिलाड़ियों को मिलेगा मौका

rahul dravid 1575016819

राहुल द्रविड़ से जब इस बारे में पुछा गया की आईपीएल में एक और टीम आने से क्या फायदा होगा तो उन्होंने कहा की-

” अगर आईपीएल में अधिक टीमें होंगी तो सभी प्रतिभाशाली खिलाड़ियों को अपनी प्रतिभा दिखाने का मौका मिलेगा और इससे उनके स्तर में कोई कमी नहीं आएगी मेरा मानना है कि हम तैयार हैं क्योंकि प्रतिभा के मामले में बहुत सारे नए नाम और चेहरे उभरकर सामने आए हैं। आईपीएल का प्रतिनिधित्व करने वाले खिलाड़ियों को अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट खेले बिना इतना अनुभव मिल जाता है”

द्रविड़ ने दिया तेवतिया का उदाहरण

Tewatia 2 e1601274972944 980x530 1

राहुल द्रविड़ ने आईपीएल के इस सीजन शानदार प्रदर्शन करने वाले राहुल तेवतिया के प्रदर्शन का उदाहरण देते हुए कहा कि, आईपीएल की वजह से ही हरियाणा के राहुल तेवतिया जैसे खिलाड़ी दुनिया को अपनी प्रतिभा दिखा पाए। इससे पहले आप रणजी ट्रॉफी के लिए चयन पर अपने राज्य संघ पर निर्भर थे हरियाणा जैसे राज्य में युजवेंद्र चहल, अमित मिश्रा और जयंत यादव जैसे शानदार स्पिन गेंदबाज उपलब्ध है।

इन खिलाड़ियों के सामने तेवतिया को सीमित ओवरों में मौका नहीं मिलता था। ऐसे में अब आप अपनी प्रतिभा दिखाने के लिए सिर्फ राज्य संघ तक सीमित नहीं रह सकते। राहुल द्रविड़ ने कहा कि एक कोच के रूप में हम युवा खिलाड़ियों को उनकी यात्रा में मदद कर सकते हैं लेकिन इसके लिए अनुभव की जरूरत होगी। जो की आईपीएल से मिल सकती है।