rahul dravid-shastri

टी-20 वर्ल्ड कप (T20 worldcup) के समाप्त होने के ठीक बाद तत्कालीन कोच रवि शास्त्री(ravi shastri) का कार्यकाल समाप्त होने जा रहा है. जिसके बाद से ये चर्चा काफी जोरो पर है कि टीम इंडिया का अगला कोच कौन होगा. राहुल द्रविड़(Rahul dravid) से भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड(BCCI) द्वारा न्यूजीलैंड के खिलाफ भारत की घरेलू श्रृंखला के लिए अंतरिम कोच बनने के लिए संपर्क किए जाने की संभावना है. ऐसी खबर सामने आ रही है. क्योंकि टी-20 वर्ल्डकप(T20 Worldcup) के समाप्त होने के ठीक बाद ये सीरीज खेली जानी है. ऐसे में इतने कम समय नए नए कोच को ढूँढना आसान नहीं होगा.

किसी भारतीय को ही कोचिंग की जिम्मेदारी देना चाहती है बीसीसीआई

1919340

बीसीसीआई (BCCI) के अधिकारी ने इस बात का खुलासा किया है कि, बोर्ड कोचिंग के लिए किसी भारतीय के साथ ही जाने की सोच रही है. यह पता चला है कि कुछ ऑस्ट्रेलियाई कोचों ने इस काम में दिलचस्पी दिखाई है, लेकिन बीसीसीआई इच्छुक नहीं है क्योंकि वे इस भूमिका के लिए किसी भारतीय पर ध्यान केंद्रित कर रहे हैं, इससे पहले कि वे कहीं और देखें. बीसीसीआई(BCCI) चाहता था कि राहुल द्रविड़(rahul dravid) भारतीय टीम का फुल टाइम कोच बने लेकिन उन्होंने मना कर दिया था. उन्होंने कहा था कि, वो ज्यादा ट्रेवल नहीं करना चाहते.

न्यूजीलैंड दौरे के लिए कोचिंग की जिम्मेदारी संभल सकते है राहुल द्रविड़(rahul dravid)

rahul dravid-Coach

बोर्ड ने शुरू में रवि शास्त्री(ravi shastri) से न्यूजीलैंड श्रृंखला तक जारी रखने का अनुरोध करने की संभावना पर विचार किया था, लेकिन अब उन्होंने अपना विचार बदल दिया है. न्यूजीलैंड दौरे के लिए राहुल द्रविड़ (rahul dravid) को कोच बनाने के बारे में सोच रही है. राहुल द्रविड़(rahul dravid) ने श्रीलंका में सेकंड-स्ट्रिंग भारतीय टीम को कोचिंग दी है, जब मुख्य टीम इस साल की शुरुआत में ऑस्ट्रेलिया में खेल रही थी. भारत को टी20 वर्ल्डकप(T20 worldcup) के तुरंत बाद न्यूजीलैंड के खिलाफ दो टेस्ट और तीन टी20 मैच खेलने हैं.

बीसीसीआई(BCCI) ने नहीं जारी की है कोई भी विज्ञापन

bcci

बीसीसीआई(BCCI) ने आधिकारिक तौर पर कोच के लिए कोई विज्ञापन नहीं दिया है इसके बारे में बात करते हुए बीसीसीआई(BCCI) के एक अधिकारी ने कहा,

हम ऐसी स्थिति नहीं चाहते जहां हमें आवेदन मिले लेकिन किसी को आदर्श के रूप में नहीं देखा जाए. यह बोर्ड के लिए और उम्मीदवारों के लिए भी शर्मनाक होगा. इसलिए बेहतर है कि पहले एक उपयुक्त उम्मीदवार की तलाश की जाए, तब तक द्रविड़ अंतरिम कोच हो सकते हैं.