R Ashwin steve smith

मेलबर्न में मिली शर्मानाक हार के बाद ऑस्ट्रेलिया के कई खिलाड़ी मुकाबले में की हुई गलतियों के बारे में बयानबाजी कर रहे हैं. दरअसल 26 दिसंबर को दूसरे टेस्ट में टॉस जीतकर कंगारूओं ने पहले बल्लेबाजी करने का फैसला किया था. लेकिन पूरी टीम मजह 195 रन पर ऑल आउट हो गई थी. 8 विकेट से मेलबर्न टेस्ट में मिली हार के बाद तूफानी बल्लेबाज स्टीव स्मिथ ने आर अश्विन को लेकर बयान दिया है.

स्टीव स्मिथ ने मानी अपनी गलतियां

steve smith action images via reuters 1567841859

दरअसल ऑस्ट्रेलिया के शानदार टेस्ट खिलाड़ी स्टीव स्मिथ की भारतीय गेंदबाज आर अश्विन के सामने एक भी नहीं चली. स्टीव स्मिथ का बल्ला चलने से पहले ही, आर अश्विन के सामने फेल हो गया. मेलबर्न में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ गेंदबाजी करने उतरे आर अश्विन लगातार अपनी शानदार बॉलिंग को लेकर चर्चा में बने हुए हैं.

आर अश्विन ने बॉक्सिंग डे टेस्ट मैच की पहली पारी में स्टीव स्मिथ को बिना खाता खोले ही पवेलियन भेज दिया. इसके बाद दूसरी पारी में महज 8 रन बनाकर वो बोल्ड हो गए. 4 पारियों में बल्लेबाजी करते हुए वो सिर्फ 10 रन बनाने में ही कामयाब रहे.

आर अश्विन को खुद पर हावी होने  दिया: स्टीव स्मिथ

Steve Smith Twitter

भारतीय गेंदबाजों के सामने स्टीव स्मिथ का बल्ला दम भर गया. आर अश्विन के सामने तो वो पूरी तरह से फ्लॉप हो गए. अपनी गेंदबाजी के दम पर आर अश्विन ने स्टीव स्मिथ को जमकर नचाया. मैच में मिली करारी शिकस्त के बार स्टीव स्मिथ ने ये मान लिया कि मैच में उन्होंने खुद पर अश्विन को दबाव डालने का मौका दिया.

स्टीव स्मिथ का कहना है कि, ये पहली बार था जब किसी स्पिनर को उन्होंने इस तरह से खुद पर हावी होने दिया. दरअसल इस बारे में सेन रेडियो से बात करते हुए स्टीव स्मिथ ने कहा कि,

“वह मेलबर्न में आर अश्विन को जिस तरह से खेलना चाहते थे वैसा खेल नहीं पाए. बल्लेबाजी करते हुए उन्हें आर अश्विन के सामने संघर्ष करने के बजाय उन पर हावी होना चाहिए था. इस तरीके से मैंने खुद के करियर में किसी स्पिनर को करने का मौका नहीं दिया”.

वापसी करने की पूरी तैयार: स्टीव स्मिथ

steve smith 1565072086

आगे अपने प्रदर्शन के बारे में बात करते स्टीव स्मिथ ने कहा कि,

‘अगले टेस्ट मैच में मुझे पूरे आत्‍मविश्‍वास के साथ प्रदर्शन करना होगा. मैं एक लंबी पारी खेलने के प्रयास में हूं. जो अब जरूरी हो गया है. क्योंकि इस साल में मैनें सिर्फ 64 गेंदों की ही पारी खेली है, जो वनडे फॉर्मेट था. हालांकि अब मैं मैदान पर लय हासिल करने के प्रयास में लगा हूं’.