Punam Raut-Pink Ball

भारत-ऑस्ट्रेलिया (INDw vs AUSw) के बीच पहली बार डे-नाइट टेस्ट मैच खेला जा रहा है. इस मुकाबले का दूसरा दिन खत्म हो चुका है और पूनम राउत (Punam Raut) अपने एक फैसले को लेकर सोशल मीडिया पर चर्चा का विषय बनीं हुई हैं. उनके इस भावना की हर कोई तारीफ कर रहा है. उन्होंने जिस तरह का निर्णय लिया उससे अंपायर और कंगारू खिलाड़ी भी हैरान रह गई. क्या है इससे जुड़ी पूरी खबर, जानिए हमारी इस खास रिपोर्ट के जरिए….

भारतीय महिला खिलाड़ी ने सोशल मीडिया पर बटोरी चर्चा

Punam Raut

पिछले दो दिनों से भारतीय टीम (Indian Cricket Team) ऑस्ट्रेलियाई गेंदबाजों के सब्र का इम्तिहान लेने में कामयाब रही है. मुकाबले के दूसरे दिन दिन स्मृति मांधना (Smriti Mandhana) और पूनम राउत (Punam Raut) ने अपना विकेट गिरने से पहले कंगारू खिलाड़ियों को नाको चने चबाने पर मजबूर कर दिया. इन दोनों ने विरोधी गेंदबाजों को काफी ज्यादा परेशान किया. स्मृति ने दूसरे दिन मैच में मिले जीवनदान का भरपूर फायदा उठाया और अपना पहला टेस्ट शतक पूरा किया.

 

वहीं दूसरी तरफ पूनम ऑस्ट्रेलियाई गेंदबाजों का सामना करती रहीं. हालांकि मंधाना के विकेट गिरने के बाद वो भी चंद समय में वापस पवेलियन की तरफ लौट गईं. मुकाबले के पहले दिन शेफाली वर्मा के आउट होने के बाद वो क्रीज पर आईं थी. उन्होंने अपनी पारी में 165 गेंदों का सामना करते हुए 36 रन बनाए थे. इस दौरान उनका स्ट्राइक रेट महज 21.82 का रहा. लेकिन, मैच में वो बल्लेबाजी के लिए नहीं बल्कि अपने आउट होने को लेकर चर्चा बटोरने में कामयाब रहीं.

नॉटआउट होने के बाद भी महिला खिलाड़ी लौटी पवेलियन

photo 2021 10 01 17 52 35

दरअसल इस मुकाबले में इस भारतीय महिला क्रिकेटर ने खेल भावना का एक नया मिसाल पेश किया जिसे देखने के बाद तो विरोधी टीम और अंपायर भी दंग रह गए थे. ये पूरा वाकया टीम इंडिया के पारी के 80वें ओवर का है. इस दौरान सॉफी मोलीन्यूक्स ओवर कर रही थीं. गेंद बाहर की ओर जा रही थी. इस दौरान पूनम राउत (Punam Raut) ने स्ट्रेच करके गेंद को खेलने का प्रयास किया. लेकिन, वो सीधे विकेटकीपर हीली के ग्लव्स में समा गई. मोलीन्यूक्स के अपील करने के बाद अंपायर ने उन्हें नॉट आउट करार दिया.

photo 2021 10 01 17 52 23

हालांकि ऑस्ट्रेलिया की टीम अंपायर के फैसले के बाद रिव्यू लेती उससे पहले ही भारतीय महिला खिलाड़ी वापस पवेलियन लौट गईं. उन्हें वापस जाते देख अंपायर और ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ी भी हैरानी में दिखे. दरअसल भारतीय महिला खिलाड़ी को ऐसा लगी कि, गेंद उनके बल्ले के किनारे को छूती हुई हीली के पास गई है. अंपायर के फैसले के बाद भी उन्होंने वापस पवेलियन का रास्ता चुना. इस दौरान डगआउट में बैठी पूरी टीम इंडिया ने उनके इस फैसले का सम्मान किया. पूनम रावत (Punam Raut) के इस फैसले की कमेंटेटर ने भी काफी तारीफ की और इसे बहादुरी जैसा फैसला करार दिया.