IMG 20210719 122331

भारतीय क्रिकेट टीम के सलामी बल्लेबाज पृथ्वी शॉ (Prithvi Shaw) और ईशान किशन श्रीलंका के साथ खेले गए पहले एकदिवसीय मुकाबले की सबसे बड़ी खबर रहे। दोनों ही खिलाड़ियों ने आतिशी बल्लेबाजी की और अपनी टीम को जीत दिलाने में अहम भूमिका निभाई। अब एक ओर ये शॉ-किशन के लिए अच्छा रहा, लेकिन कहीं ना कहीं उनकी इन पारियों ने शिखर धवन व केएल राहुल के लिए मुश्किलें खड़ी कर दी होंगी।

Prithvi Shaw-ईशान के नाम का आया तूफान

PRITHVI SHAW

पहले एकदिवसीय मुकाबले में चेज करने उतरी टीम इंडिया की ओर से Prithvi Shaw व ईशान किशन के नाम का ऐसा तूफान आया, जो श्रीलंकाई टीम के गेंदबाजों को बहाकर ले गया। पहले शिखर धवन के साथ ओपनिंग करते हुए जहां शॉ ने 24 गेंदों पर 43 रनों की पारी खेली, तो वहीं डेब्यू मैच खेल रहे ईशान किशन ने 33 गेंदों में अर्धशतक लगाते हुए 42 गेंदों पर 59 रनों की शानदार पारी खेली।

शॉ की ये करियर की सर्वश्रेष्ठ पारी रही, जिसके लिए उन्हें मैन ऑफ द मैच के अवॉर्ड से भी सम्मानित किया गया। वहीं अपने जन्मदिन पर वनडे डेब्यू में अर्धशतक लगाते हुए ईशान, भारत के लिए ऐसा करने वाले पहले खिलाड़ी बन गए। चारों ओर दोनों खिलाड़ी की इन पारियों की चर्चा हो रही है।

शॉ-ईशान पेश कर रहे T20 विश्व कप के लिए दावेदारी

श्रीलंका दौरा आगामी टी20 विश्व कप के नजरिए से बहुत अहम है। इसके बाद भारत कोई भी सीमित ओवर सीरीज नहीं खेलेगा, ऐसे में इस सीरीज में प्रदर्शन करके ही खिलाड़ी आगामी टी20 विश्व कप टीम में जगह बना सकते हैं। ऐसे में श्रीलंका के साथ खेले गए पहले वनडे मैच में जिस तरह से Prithvi Shaw और ईशान ने बल्लेबाजी की है, यकीनन वह अब टी20 विश्व कप टीम के लिए अपनी दावेदारी पेश कर रहे हैं।

इससे पहले भी Prithvi Shaw लाजवाब फॉर्म में रहे हैं। जब उन्होंने विजय हजारे टूर्नामेंट में रिकॉर्ड 827 रन बनाए और फिर आईपीएल 2021 के शुरुआती 8 मैचों में 308 रन बनाए। वहीं दूसरी ओर ईशान की कहना भी ऐसी ही रही है। आईपीएल में अच्छा करने के अलावा, उन्होंने इंग्लैंड के खिलाफ T20I डेब्यू मैच में 56 रनों की आतिशी पारी खेली थी। इस तरह के प्रदर्शन को देखने हुए कहना गलत नहीं होगा की दोनों ही युवा खुद को टी20 विश्व कप टीम के लिए दावेदार साबित कर रहे हैं।

धवन-केएल के लिए बढ़ा खतरा

Prithvi Shaw

शिखर धवन के लिए पहले से ही टी20 विश्व कप टीम में जगह पक्की करना मुश्किल हो रहा था और अब तो जिस तरह से शॉ व ईशान ने पहले वनडे में बल्लेबाजी की है, उसके बाद तो केएल राहुल के लिए भी खतरा हो सकता है। असल में मैच में धवन ने भी 86 रनों की सधी हुई नाबाद पारी खेली, मगर प्रभावित करने वाली पारी Prithvi Shaw व ईशान किशन के बल्ले से ही आई।

अब यदि भारतीय चयनकर्ता भी इन युवा खिलाड़ियों की बल्लेबाजी से प्रभावित हुए होंगे, तो आगामी टी20 विश्व कप में धवन व केएल राहुल के लिए मौका बनना मुश्किल हो जाएगा। पहले से ही इस बात पर चर्चा चल रही थी कि भारत की ओर से ओपनिंग कौन करेगा? क्योंकि इसके लिए कई विकल्प मौजूद हैं। अब श्रीलंका दौरे पर युवाओं का प्रदर्शन चयनकर्ताओं के लिए मीठा सिरदर्द बन सकते हैं।