prithvi shaw-career

भारतीय क्रिकेट टीम के युवा सलामी बल्लेबाज पृथ्वी शॉ (Prithvi Shaw) काफी लंबे वक्त से टीम इंडिया से बाहर चल रहे हैं. हाल ही में उनका चयन श्रीलंका दौरे के लिए हुआ था. ऐसे में भारत की बी टीम के साथ अभी वो विदेशी दौरे पर पहुंचे हुए हैं. इस बार फैंस की उनसे खासा उम्मीदें जुड़ी हुई हैं. जाहिर सी बात है कि, आईपीएल में उनके जबरदस्त फॉर्म को देखने के बाद हर क्रिकेट प्रेमी उन्हें उसी अंदाज में देखना चाहेगा. यहां तक कि ये भी कहना गलत नहीं होगा कि ये दौरा उनके करियर के लिए बेहद अहम साबित होने वाला है.

युवा बल्लेबाज के पास खुद को साबित करने का है बेहतरीन चांस

prithvi shaw

दरअसल आखिरी बार पृथ्वी शॉ को ऑस्ट्रेलिया दौरे पर टीम में शमिल किया गया था. पहले टेस्ट मैच की दोनों ही पारियों में फ्लॉप होने के बाद उन्हें एक भी टेस्ट मुकाबले में मौका नहीं दिया गया. इसके बाद से प्लेइंग 11 में क्या वो अपनी जगह टीम में भी जगह नहीं बना सके हैं. टेस्ट फॉर्मेट में 42.38 की बेहतरीन औसत से बल्लेबाजी करने वाले युवा बल्लेबाज के करियर में उनका खराब प्रदर्शन सबसे बड़ा कांटा बना हुआ है. बीते साल आईपीएल 2021 में भी उनका बल्ला शांत रहा था.

इस टूर्नामेंट के खत्म होते ही वो ऑस्ट्रेलिया दौरे पर पहुंचे थे. लेकिन, यहां पर भी पहले मैच में उनका बल्ला खामोश ही रहा. ऐसे में शुभमन गिल को सलामी बल्लेबाज के तौर पर उतारा गया और वो अपनी जगह टीम में पक्की करने में कामयाब रहे. ऐसे में टेस्ट फॉर्मेट में खुद की वापसी कराने के लिए श्रीलंका के खिलाफ मिले मौका का पृथ्वी शॉ (Prithvi Shaw) को सही तरीके से फायदा उठाना होगा. क्योंकि इस समय गिल भी चोट की समस्या से जूझ रहे हैं.

लंबे समय से बल्ले से संघर्ष कर रहा है ये सलामी बल्लेबाज

photo 2021 07 03 14 25 50

ऑस्ट्रेलिया के बाद इंग्लैंड के खिलाफ खेली गई घरेलू टेस्ट सीरीज में भी उन्हें मौका नहीं दिया गया था. यहां तक कि टी20 और वनडे जैसी श्रृंखला से भी उन्हें बाहर का रास्ता दिखा दिया गया था. इसी लंबे फॉर्मेट में उनके प्रदर्शन की बात करें तो उन्होंने अब तक कुल 5 टेस्ट मैच खेले है. इन 5 मुकाबलों की 9 पारी में 42 से ज्यादा की औैसत से बल्लेबाजी करते हुए उन्होंने कुल 339 रन बनाए है. इस पारी में 1 शतक और 2 अर्धशतक शामिल है.

हालांकि सीमित फॉर्मेट में पृथ्वी शॉ (Prithvi Shaw) के करियर पर एक नजर डालें तो आखिरी बार उन्होंने न्यूजीलैंड के खिलाफ फरवरी में वनडे मैच खेला था. हालांकि न्यूजीलैंड के खिलाफ खेले गए तीन वनडे सीरीज में वो बड़ी पारी खेलने में नाकामयाब रहे थे. इसके बाद से उन्हें लगातार भारतीय टीम में रहते हुए बल्ले से संघर्ष करते देखा गया है. ऐसे में जाहिर सी बात है कि, श्रीलंका दौरा युवा क्रिकेट के करियर के लिए बेहद जरूरी है.

श्रीलंका दौरा युवा बल्लेबाज के करियर के लिए बेहद जरूरी

photo 2021 07 03 14 25 27

यदि इस बार वो श्रीलंका के खिलाफ बेहतरीन प्रदर्शन करते हैं, तो टीम में उनकी वापसी की उम्मीद जिंदा रहने की पूरी संभावना है. क्योंकि टी20 विश्व कप (T20 World cup) भी नजदीक है. ऐसे में पृथ्वी शॉ (Prithvi Shaw) भी खुद को इस बड़े टूर्नामेंट में खेलते हुए देखना चाहेंगे. ऐसे में वो अपनी आईपीएल 2021 (IPL 2021) फॉर्म को श्रीलंका के खिलाफ भी जारी रखना चाहेंगे, जो उनके क्रिकेट करियर के लिए सही दिशा तय करेगी.