india

भारतीय क्रिकेट टीम को WTC फाइनल में हार का सामना करना पड़ा। इस हार का एक बड़ा कारण ये रहा कि भारत को इंग्लैंड में कोई प्रैक्टिस मैच (Practice Match) नहीं मिला था, जिसके चलते उनके खेल में प्रैक्टिस की कमी दिखी। इससे सतर्क होते हुए बीसीसीआई ने ईसीबी से 2 प्रैक्टिस मैचों को आयोजित करने की अपील की थी। अब खबर सामने आ रही है कि 14 जुलाई से डरहम में खिलाड़ी बायो बबल में लौटेंगें और फिर वहीं 2 प्रैक्टिस मैच खेले जाएंगे।

विराट कोहली को खली थी Practice Match की कमी

टीम इंडिया मौजूदा समय में छुट्टियां इंज्वॉय कर रही है। इसके बाद भारत को 14 जुलाई से डरहम में इकट्ठा होना है। अब खबर के मुताबिक वहीं 2 Practice Match आयोजित

टीम इंडिया को न्यूजीलैंड के हाथों टेस्ट चैंपियनशिप फाइनल में 8 विकेटों से हार का सामना करना पड़ा। इस हार के साथ ही भारत के हाथ से खिताब जीतने का मौका भी निकल गया। मैच में भारतीय खिलाड़ियों को Practice Match की कमी खली। मैच गंवाने के बाद कप्तान विराट कोहली ने कहा था कि,

“उनकी टीम टेस्ट सीरीज से पहले अभ्यास मैच खेलना चाहती थी लेकिन उन्हें नहीं पता कि उनका अनुरोध क्यों खारिज कर दिया गया।”

गौरतलब है कि इतने बड़े मैच से पहले भारत ने सिर्फ इंट्रा स्क्वाड मैच खेला था, जबकि न्यूजीलैंड ने इंग्लैंड के साथ 2 मैचों की टेस्ट सीरीज खेली थी, जिसने उन्हें महामुकाबले के लिए अच्छी तरह तैयार होने का मौका दिया।

2 प्रैक्टिस मैच खेलेगा भारत

practice match

टीम इंडिया मौजूदा समय में छुट्टियां इंज्वॉय कर रही है। इसके बाद भारत को 14 जुलाई से डरहम में इकट्ठा होना है। अब खबर के मुताबिक वहीं 2 Practice Match आयोजित किए जाएंगे। वहीं 4 अगस्त से इंग्लैंड टेस्ट सीरीज का आयोजन होगा। दैनिक भास्कर में छपी रिपोर्ट के अनुसार,

‘बीसीसीआई ने सभी भारतीय खिलाड़ियों को छुट्टी के बाद डरहम के अमीरात रिवरसाइड में एकत्रित होने के लिए कहा है। पहला प्रैक्टिस मैच चार दिवसीय होगा जो जुलाई के आखिरी हफ्ते में खेला जाएगा। हालांकि किस काउंटी टीम के खिलाफ भारतीय टीम प्रैक्टिस मैच खेलेगी यह फैसला अब तक नहीं हुआ है। इसके बाद टीम काउंटी सिलेक्ट-11 के खिलाफ भारतीय टीम तीन दिवसीय मैच खेलेगी।’