Deepak Chahar guptill reaction
Deepak Chahar guptill reaction

IND vs NZ 2021: जयपुर के सवाई मान सिंह स्टेडियम में खेले गए 3 टी20 मुकाबलों की सीरीज के पहले मुकाबलें में भारतीय टीम ने 5 विकेट से एक रोमांचक जीत हासिल की. अब भारत और न्यूजीलैंड, दोनों टीम 19 नवम्बर को होने वाले दुसरे टी20 मुकाबलें (IND vs NZ) के लिए रांची पहुंचेगी. 18 नवंबर को दोनों टीमें रांची एयरपोर्ट पहुंचेंगी. इसके बाद विशेष सुरक्षा में खिलाड़ियों को होटल रेडिसन ब्लू (Redison Blue) लाया जाएगा. इस मुकाबलें के लिए शत प्रतिशत दर्शकों के लिए स्टेडियम के गेट को खोल दिया गया है. हालाँकि इसके खिलाफ झारखंड हाईकोर्ट में जनहित याचिका दायर की गई है.

झारखंड हाईकोर्ट में जनहित याचिका दायर

IND vs NZ

भारत और न्यूजीलैंड (IND vs NZ) की बीच होने वाले दुसरे टी20 मुकाबलें के लिए रांची के जेएससीए स्टेडियम (JSCA Stadium) में शत प्रतिशत दर्शकों को स्टेडियम के अन्दर आकर मैच देखने की अनुमति दे दी गयी है. हालाँकि अब इस इस फैसले को लेकर एडवोकेट धीरज कुमार (Dheeraj Kumar) ने जनहित याचिका दायर कर मामले की जांच करने की मांग की है.

उन्होंने पूछा है कि राज्य सरकार द्वारा जारी कोरोना एसओपी कब तक लागू है. 50 फीसदी क्षमता के साथ शादियां हो रही हैं, स्कूल भी 50 प्रतिशत छात्रों को अनुमति दे रहे हैं, धार्मिक स्थल 50 फीसदी की क्षमता के आधार पर चल रहे हैं. ऐसे में कैसे झारखंड क्रिकेट एसोसिएशन को भारत और न्यूजीलैंड के बीच टी20 मैच को सौ फीसदी क्षमता के साथ आयोजित करने की अनुमति कैसे दे दी गयी है.

झारखंड क्रिकेट एसोसिएशन के उपाध्यक्ष ने दी है सफाई

IND vs NZ

झारखंड क्रिकेट एसोसिएशन (JSCA)  के उपाध्यक्ष अजय शाहदेव (Ajay Sahdev) ने इस मामले को लेकर सफाई देते हुए बताया कि, IND vs NZ के बीच होने वाले इस मुकाबलें के लिए तैयारियां पूरी कर ली गई हैं.  शाहदेव ने कहा, ‘इस स्टेडियम में पहले भी अंतरराष्ट्रीय मैच का आयोजन किया जा चुका है. इस बार शत् प्रतिशत क्षमता के साथ मैच का आयोजन किया जा रहा है, लेकिन कोरोना के नियमों का सख्ती से पालन करवाया जाएगा. सभी के लिए गाइडलाइंस का पालन करना अनिवार्य होगा.

खिलाड़ियों के सुरक्षा को लेकर हुई है ख़ास तैयारी

IND vs NZ 2021

IND vs NZ मैच के लिए भारतीय क्रिकेट बोर्ड (BCCI) की तरफ से खिलाड़ियों और सपोर्ट स्टाफ के लिए 100 कमरे बुक किए गए हैं. होटल में सिर्फ 15 कमरे बाहरी गेस्ट के लिए के लिए रिजर्व हैं. इन कमरों में ठहरने वाले गेस्ट किसी भी सूरत में खिलाड़ियों के संपर्क में नहीं आएंगे. होटल प्रबंघक देवेश ने कहा कि खिलाड़ियों के होटल में अन्दर आने से लेकर बाहर जाने तक के लिए अलग रास्ता बनाया गया है.

होटल में कुल 15 फ्लोर है, जिसमें सात फ्लोर पर कमरे हैं. इनमें से छह फ्लोर और लॉबी को बायो-बबल जोन में कंवर्ट कर दिया गया है. स्टेडियम में भी खिलाड़ियों को बायो-बबल सुरक्षा में रखा जाएगा. ग्राउंड से पेवेलियन तक आने-जाने के दौरान कोई भी बाहरी शख्स खिलाड़ियों के संपर्क में नहीं आएगा