क्या खत्म हो चुका है महेंद्र सिंह धोनी का करियर… क्या धोनी को लेकर चाहिए संन्यास… क्या बूढ़े धोनी बन रहे है टीम इंडिया पर बूझ… क्या धोनी की फिर होगी नीली जर्सी में वापसी… इत्यादि इत्यादि इत्यादि…

आज कल क्रिकेट के गलियारों में पूर्व भारतीय कप्तान महेंद्र सिंह धोनी को लेकर ऐसी ही कुछ बातें सुनने को मिलती रहती है. क्रिकेट प्रेमियों से लेकर क्रिकेट एक्सपर्ट्स तक सभी के दिलों दिमाग में यह सवाल उमड़ रहा है कि अब धोनी का टीम इंडिया का भविष्य क्या हैं.

पीटरसन ने भी राखी अपनी राय

आकाश चोपड़ा से लेकर माइकल वॉन तक और रोहित शर्मा से लेकर हरभजन सिंह तक और ना जाने कितने ही दिग्गज धोनी के संन्यास या उनके भविष्य पर अपनी अपनी राय प्रकट कर चुके है. हाल में ही इंग्लैंड के पूर्व कप्तान और स्टाइलिश बल्लबाजों में शुमार केविन पीटरसन ने भी इस मुद्दे पर अपनी रे रखी. पीटरसन ने अपने एक बयान में धोनी के संन्यास को लेकर कहा,

“मुझे लगता है जो काम महेंद्र सिंह धोनी ने भारतीय क्रिकेट के लिए किया है, वो काफी सरहानीय है. इसलिए सिर्फ धोनी को अधिकार है कि वह अपने संन्यास के बारे में क्या सोचते हैं. मुझे नहीं लगता कि किसी और को उनके संन्यास के बारे में बात करनी चाहिए.”

धोनी को माना सर्वश्रेष्ठ कप्तान            

क्रिकेट के बाजार में यह सवाल भी लगातार उठता रहा है, कि टीम इंडिया का सबसे बेस्ट कप्तान सौरव गांगुली, एमएस धोनी और विराट कोहली में कौन है. इस पर भी केविन ने अपने बयान में कहा,

“बेस्ट कप्तान की बात आती है, तो धोनी के अलावा किसी और को चुनना काफी मुश्किल है, क्योंकि हम सभी जानते हैं कि भारतीय टीम की कप्तानी और चेन्नई सुपर किंग्स की कप्तानी करते हुए क्या किया है?”

एक साथ भी खेला क्रिकेट

आप सभी को शायद ही यह बात पता होगी लेकिन केविन पीटरसन, महेंद्र सिंह धोनी की अगुवाई में भी खेल चुके है. यह बात साल 2016 में खेले गये आईपीएल सत्र की है. उस समय यह दोनों खिलाड़ी राइजिंग पुणे सुपरजॉइंट की टीम का हिस्सा थे.

धोनी की कप्तानी में केविन पीटरसन को चार मैच खेलना का मौका मिला और इस दौरान उनके बल्ले से 119.67 के स्ट्राइक रेट के साथ सिर्फ 37 रन आये.

AKHIL GUPTA

क्रिकेट...क्रिकेट...क्रिकेट...इस नाम के अलावा मुझे और कुछ पता नहीं हैं. बस क्रिकेट...