PAK vs AUS Pat Cummins leaves training appearing to clutch hamstring
PAK vs AUS Pat Cummins leaves training appearing to clutch hamstring

पाकिस्तान (Pakistan) पहुंचे ऑस्ट्रेलिया टीम के कप्तान पैट कमिंस (Pat Cummins) को लेकर बड़ी अपडेट सामने आ रही है जो कंगारू टीम के लिए एक बड़ा झटका साबित हो सकती है. दूसरे टेस्ट मैच में उनके खेलने को लेकर अटकलें आ रही हैं. इसके पीछे की क्या वजह है इसके बारे में तो आपको बताएंगे ही लेकिन, उससे पहले रावलपिंडी में दोनों टीमों के बीच इस सीरीज का पहला टेस्ट मैच खेला गया था जो ड्रॉ हो गया था. लेकिन, अब पैट कमिंस (Pat Cummins) को लेकर आ रही खबर ने कंगारूओं की चिंता को बढ़ा दिया है.

दूसरे टेस्ट मैच से पहले आई बुरी खबर!

 Pat Cummins Hamstring Injury

दरअसल दूसरे मैच में उनके खेलने पर तलवार लटक रही है. ऐसी खबरें सामना आ रही हैं कि प्रैक्टिस के दौरान उन्हें हैमस्ट्रिंग इंजरी हो गई है. इसके बाद वो फिजियोथेरेपिस्ट की मदद से मैदान के बाहर जाते हुए देखे गए. ऑस्ट्रेलियाई कप्तान को हुई हैमस्ट्रिंग इंजरी (Hamstring Injury) ने जहां मेजबान का रास्ता साफ कर दिया है. वहीं मेहमान खेमे में ये अपडेट चिंता विषय बन सकती है.

फिलहाल पैट कमिंस (Pat Cummins) दूसरे मुकाबले में ऑस्ट्रेलिया की ओर से उतरेंगे या नहीं इसे लेकर ऑफिशियल तौर पर किसी भी तरह की जानकारी नहीं दी गई है. लेकिन, पाकिस्तान के खिलाफ दूसरे टेस्ट से दो दिन पहले उनकी इस इंजरी ने ऑस्ट्रेलिया की चिंता जरूर बढ़ा दी है. क्योंकि वो न सिर्फ टीम की मेजबानी कर रहे हैं बल्कि पेस अटैक का नेतृत्व भी कर रहे हैं. उनकी गेंदबाजी टीम के लिए काफी महत्वपूर्ण भी है.

फ्लैट पिच की वजह से ट्रोल हुई थी पीसीबी

 Pat Cummins Injury Updates

हालांकि, ऑस्ट्रेलियाई मीडिया के मुताबिक क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया के प्रवक्ता ने पैट कमिंस (Pat Cummins) की इंजरी से जुड़ किसी भी खबर से सहमति नहीं जताई है. उनका कहना है कि पैट कमिंस पूरी तरह से फिट और स्वस्थ हैं. अब यदि प्रवक्ता की बात सही साबित होती है तो दूसरे टेस्ट मैच में उनके खेलने के रास्ते साफ नजर आ रहे हैं.

इन सभी खबरों में कितना सच्चाई है इस बारे में अभी कुछ भी कह पाना मुश्किल है. वहीं बात करें दूसरे टेस्ट मुकाबले की तो ये मैच 12 से 16 मार्च के बीच कराची में खेला जाएगा. इससे पहले रावलपिंडी की फ्लैट पिच काफी चर्चाओं में रही थी और इसके लिए पीसीबी को काफी आलोचना का भी सामना करना पड़ा था.