pakistan vs England

पाकिस्तान और इंग्लैंड (Pakistan vs England) के बीच जुलाई में होने वाली सीरीज से पहले ही एक बड़ी खबर सामने आई है. जो फैंस के लिए किसी बड़े से कम नहीं है. दरअसल राजनीतिक तनाव की भेट अब इन दोनों देशों के बीच होने वाली सीरीज चढ़ने वाली है. जिसे लेकर हाल में नई अपडेट आई है. क्या है पूरा मामला, हम आपको अपनी इस रिपोर्ट के जरिए बताएंगे.

इंग्लैंड-पाक के मैच का प्रसारण नहीं देख सकेंगे पाकिस्तानी फैंस

pakistan

दरअसल पाकिस्तान (Pakistan) कैबिनेट ने राजनीतिक संबंध में चल रही उथल-पुथल की वजह से पाक और इंग्लैंड (Pak vs Eng) के बीच होने वाली क्रिकेट सीरीज के अपने देश में सीधे प्रसारण के लिए भारतीय कंपनी के साथ अनुबंध वाले प्रस्ताव को सिरे से खारिज कर दिया है. इस बारे में बैठक के बाद सूचना मंत्री फवाद चौधरी ने मीडिया से बातचीत करते हुए जनाकारी दी है. उन्होंने बताया कि, पाकिस्तान टेलीविजन (पीटीवी) ने सरकार से मैचों के प्रसारण के लिए स्टार और सोनी से करार पर हस्ताक्षर की अपील की थी.

हालांकि ‘कैबिनेट ने इंग्लैंड-पाकिस्तान (Pakistan) क्रिकेट सीरीज के लाइव टेलिकास्ट के लिए स्टार और सोनी से करार के पीटीवी के आग्रह को ठुकरा दिया है.’ फवाद ने इस बारे में बातचीत करते हुए ये भी कहा कि, इमरान खान सरकार पहले ही इस बात को साफ कर चुकी है कि, भारत के साथ रिलेशन 5 अगस्त 2019 को लेकर की गई  कार्रवाई को पलटने पर निर्भर करेंगे. यानी कि, वो जम्मू कश्मीर में धारा 370 को हटाए जाने का जिक्र कर रहे थे.

सरकार के फैसले पर फूट रहा फैंस का गुस्सा

photo 2021 06 09 16 17 20

इस बारे में उन्होंने आगे कहा कि, ‘जब तक उस अनुच्छेद को वापस दोबारा से लागू नहीं किया जाता, तब तक भारत के साथ हमारे रिश्ते सामान्य नहीं हो सकते.’ फवाद ने ये बात भी कही कि, स्टार और सोनी का दक्षिण एशिया की हर क्रिकेट पर एकाधिकार है और भारतीय कंपनी के साथ करार ना होने के बाद अब पाकिस्तान (Pakistan) में सीरीज का टेलिकास्ट नहीं होगा.

मीडिया से बातचीत के दौरान फवाद खान ने ये बात भी कही कि,

“सरकार इंग्लैंड एवं वेल्स क्रिकेट बोर्ड और बाकी विदेशी कंपनियों से लाइव प्रसारण का अधिकार हासिल करके बीच का रास्ता निकालने की कोशिश में लगी है. हालांकि कैबिनेट की तरफ से लिए गए निर्णय से पीटीवी और पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड को वित्तीय नुकसान झेलना पड़ेगा”.

इस फैसले के सामने आने के बाद सरकार के खिलाफ कई लोगों का गुस्सा भी फूट पड़ा है. जिसका अंदाजा सोशल मीडिया पर आ रहे फैंस के ट्वीट से लगाया जा सकता है.

यहां तक देखें लोगों की तरफ से आ रही प्रतिक्रिया