श्रीलंका

पाकिस्तान में श्रीलंका की टीम 2009 में सीरीज खेलने गयी थी. उस समय उनके खिलाड़ियों पर आतंकवादीयों ने हमला कर दिया था. उसके बाद से कोई भी टीम पाकिस्तान ने खेलने जाने से कतराती है. यदि कोई टीम जाने तो तैयार भी हो उसके अनुभवी खिलाड़ी वहां जाने से मना कर देते हैं. ऐसा फिर से श्रीलंका के खिलाड़ियों ने किया है तो पाक के मंत्री इसकी वजह भारत को बता रहे हैं.

श्रीलंका के टॉप 10 खिलाड़ियों ने पाकिस्तान जाने से किया इंकार 

अगले महीने श्रीलंका की टीम पाकिस्तान में सीमित ओवरों की सीरीज खेलने जाने वाली है. लेकिन उससे पहले श्रीलंका क्रिकेट बोर्ड को एक बड़ा झटका लगा. जब टीम के 10 बड़े खिलाड़ियों ने पाकिस्तान में सीरीज खेलने से मना कर दिया.

इन खिलाड़ियों की लिस्ट में लसिथ मलिंगा, अकिला धनंजया, कुशल परेरा, सुरंगा लकमल, दिनेश चंडीमल और थिसारा परेरा जैसे खिलाड़ी शामिल हैं. ये सीरीज 27 सितंबर से खेली जाएगी. अब इन बड़े खिलाड़ियों के ना जाने के कारण सीरीज पूरी तरह से नीरस हो जाएगी. जिसके कारण पाकिस्तान बोर्ड परेशानी में हैं.

पाक मंत्री ने भारत पर लगाया आरोप 

खिलाड़ियों के पाकिस्तान जाने से मना करने के बाद पाकिस्तान के विज्ञान और तकनीकी मंत्री फवाद हुसैन चौधरी ने इसके लिए भारत को जिम्मेदार बताते हुए कहा कि

” खेल कमेंट्रेटर ने मुझे बताया कि भारत ने श्रीलंका खिलाड़ियों को धमकी दी है कि अगर उन्हें पाक जाने से मना नहीं करते हैं तो उन्हें आईपीएल से बाहर कर दिया जाएगा.” 

उन्होंने आगे कहा कि

” यह वास्तव में नीच रणनीति है, खेल से लेकर अंतरिक्ष तक का अंधराष्ट्रीयता एक ऐसी चीज है. भारतीय खेल प्राधिकरण की ओर से काफी नीच हरकत है, इसकी हमें निंदा करनी चाहिए.” 

गलत है पाकिस्तान के मंत्री का आरोप

आपको बता दे की पाकिस्तान के मंत्री का ये आरोप पूरी तरह से गलत हैं. क्योंकि जिन 10 खिलाड़ियों से जाने से मना किया है. उसमें से मात्र एक खिलाड़ी ही आईपीएल में खेलता है. जो खुद कप्तान लसिथ मलिंगा हैं. श्रीलंका के खिलाड़ियों का मानना है की वो सुरक्षा के इंतजाम को लेकर खुश नहीं है इसलिए वहां नहीं जाना चाहते.

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *