New Zealand team

पाकिस्तान के खिलाफ सीरीज रद्द करने के बाद न्यूजीलैंड (New Zealand vs Pakistan) की 34 सदस्यीय टीम इस्लामाबाद से चार्टर्ड फ्लाइट के जरिए सीधा दुबई पहुंच गई है. इस टीम के सभी खिलाड़ी और सपोर्ट स्‍टाफ दुबई के होटल में वक्त गुजार रहे हैं. इसी हफ्ते शुक्रवार से दोनों देशों के बीच वनडे सीरीज की शुरूआत  होनी थी. लेकिन, अचानक से कीवी टीम के अधिकारियों ने सुरक्षा का हवाला देते हुए इसे रद्द करने का फैसला किया. इसके निर्णय से पीसीबी काफी भड़का हुआ भी दिखाई दिया.

दुबई सुरक्षित पहुंचे कीवी टीम के सभी खिलाड़ी

New Zealand

फिलहाल ब्लैक कैप्स के सभी खिलाड़ी दुबई में हैं. उन्‍हें 24 घंटे के लिए आसोलेशन की प्रक्रिया का सामना करना पड़ेगा. बताया जा रहा है कि, इनमें से 24 सदस्‍य हफ्ते भर के अंदर अपने स्वदेश लौट जाएंगे. क्‍योंकि वहां पर भी आइसोलेशन और क्‍वारंटीन के लिए कमरे उपलब्‍ध हैं. इस दौरे के बाकी सदस्‍य यूएई में ही रहेंगे और 17 अक्‍टूबर से शुरू हो रही टी20 वर्ल्‍ड कप (T20 World Cup) से पहले अपनी टीम से सीधा जुड़ जाएंगे.

 

दरअसल शुक्रवार को न्यूजीलैंड टीम (New Zealand Team) ने इस सीरीज को रद्द करने की घोषणा कर दी थी. उन्होंने इसके पीछे का कारण सुरक्षा का खतरा बताया था. पाकिस्‍तान के खिलाफ पहले वनडे मैच से कुछ ही देर पहले ये निर्णय लिया गया था. दुबई टीम के पहुंचने की जानकारी देते हुए कीवी क्रिकेट के मुख्य कार्यकारी अधिकारी डेविड व्‍हाइट ने कहा कि वो टीम के सुरक्षित प्रस्‍थान को व्‍यवस्थित करने में मदद करने के लिए पाकिस्‍तान क्रिकेट बोर्ड के आभारी हैं.

डेविड व्हाइट (David White) ने बताई सीरीज रद्द करने की वजह

photo 2021 09 19 15 22 47

इसके साथ ही आगे अपनी बात को बढ़ाते हुए डेविड व्हाइट ने ये भी कहा कि, हम इस बात की सराहना करते हैं कि पीसीबी के लिए यह बहुत कठिन वक्त रहा है. हम मुख्‍य कार्यकारी अधिकारी वसीम खान और उनकी टीम को उनके पेशेवर और देखभाल के लिए ईमानदारी से धन्‍यवाद देना चाहते हैं. व्‍हाइट ने ये भी कहा कि, न्‍यूजीलैंड-पाकिस्‍तान (New Zealand vs Pakistan) सीरीज के लिए बहुत उत्‍साहित था.

photo 2021 09 19 15 21 04

लेकिन, शुक्रवार को न्‍यूजीलैंड सरकार (New Zealand Government) से खतरे की सलाह मिलने के बाद इस दौरे को बीच में ही छोड़ने के अलावा किसी भी तरह का और ऑप्शन हमारे पास नहीं था. उन्‍होंने बताया कि सुरक्षा की सलाह को कीवी टीम के सुरक्षा सलाहकारों और अन्‍य सूत्रों ने भी माना, जो उस समय पाकिस्‍तान में मैदान पर थे. हालांकि इस पर उन्होंने कुछ खास स्पष्ट जानकारी नहीं दी है. लेकिन, इस खबर से बाकी देशों पर क्या असर पड़ने वाला है. इस बारे में कुछ भी कह पाना मुश्किल है.