कहते हैं बढ़ती उम्र के साथ शरीर भी धीमा पड़ जाता है,  लेकिन एक इंडियन गेंदबाज ऐसा है, जो 38 साल की उम्र में भी जुनून से भरा है और उसकी गेदों में भी स्विंग के साथ वही रफ्तार है जो एक युवा गेंदबाज में होती है.

ये भारतीय शेर कंगारु टीम के खिलाफ टी-20 सीरीज में दहाड़ने के लिए बिल्कुल तैयार है और शेर अच्छी तरह जानता है, कि शिकार कैसे किया किया जाता है.

ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ आशीष नेहरा की हुई वापसी

टीम इंडिया और ऑस्ट्रेलिया के बीच तीन टी-20 मैचों की सीरीज खेली जानी है, पहला मैच 7 अक्टूबर को रांची में खेला जाएगा, इस हाईवोल्टेज सीरीज के लिए टीम इंडिया का एलान कर दिया गया है, टीम में टी-20 स्पेशलिस्ट माने जाने वाले अनुभवी तेज गेंदबाज आशीष नेहरा की वापसी हुई है.

नेहरा ने अपना आखिरी टी-20 मैच इस साल फरवरी में  इंग्लैंड के खिलाफ खेला था, नेहरा के साथ फिटनेस हमेशा से बड़ी समस्या रही है, इसी वजह से वो टीम से अंदर-बाहर होते रहें हैं, पिछले IPL सीजन में भी नेहरा घुटने में चोट के कारण सारे मैच नहीं खेल पाए थे.

फिटनेस पर की कड़ी मेहनत

आशीष अब पूरी तरह से फिट हैं और इसके लिए उन्होंने कड़ी मेहनत भी की है. पिछले कुछ समय में नेहरा ने मैदान पर बहुत पसीना बहाया है,  उन्होंने हर वो चीज की जिससे उनकी टीम में वापसी हो सके,  इस लेफ्ट ऑर्म पेसर की वापसी उन आलोचकों को करारा जवाब है. जो उनकी उम्र को लेकर सवाल उठाते रहें हैं.

नेहरा ने अपने अन्तर्राष्ट्रीय करियर की शुआत 1999 में श्रीलंका के खिलाफ कोलंबो में टेस्ट मैच खेलकर की थी, तो वहीं पहला वनडे 2001 में जिम्बाब्वे के विरुद्ध में खेला था.  अगर टी-20 की बात करें तो नेहरा ने 2009 में श्रीलंका के खिलाफ ही नागपुर पदार्पण किया था .

वापसी पर क्या बोले आशीष नेहरा 

टीम में वापसी पर आशीष नेहरा ने खुशी जताई है और कहा,  “फिलहाल मैं सिर्फ अपने खेल पर ध्यान दे रहा हूं, अब मैं कोई लक्ष्य नहीं बनना चाहता, मैच दर मैच ही अपनी रणनीति तैयार करना चाहता हूं भारत के लिए खेलना हर किसी का सपना होता है और मुझे हमेशा टीम के लिए अच्छा प्रदर्शन करके खुशी होती है”

नेहरा ने अपने आलोचकों पर निशाना साधते हुए कहा  “लोग आपके बारे में खराब बोलने का कोई मौका नहीं छोड़ते, लेकिन मैं कभी इन सब बातों से घबराता नहीं हूं और ना ही कभी किसी को कुछ साबित करने की कोशिश करता हूं, क्योंकि मेरी टीम में क्या अहमियत है, ये बात कप्तान और कोच अच्छी तरह जानते हैं”

क्यों हुई नेहरा की वापसी

आशीष नेहरा टीम इंडिया के सबसे अनुभवी खिलाड़ियों में से एक हैं, उन्होंने टीम इंडिया के लिए 17 टेस्ट, 120 वनडे और 26 टी-20 मैच खेले हैं.  नेहरा ने पिछले कुछ समय में टी-20 में भारत के लिए शानदार प्रदर्शन किया है, टी-20 वर्ल्ड कप 2016 में  भी नेहरा ने जबरदस्त गेंदबाजी की थी.

इस तेज गेंदबाज ने IPL में भी लगातार कसी हुई गेंदबाजी कर खुद को अव्वल साबित किया है,  नेहरा ने IPL में 88 मैचों में 23.53 की औसत से 106 विकेट अपने नाम किए हैं.

नेहरा को कई बार बतौर कप्तान महेंद्र सिंह धोनी को सलाह देते देखा गया है, तो वहीं साथी गेंदबाजों को भी मैच के दौरान गाइड करते नजर आए हैं, आशीष नेट्स पर भी युवा तेज गेंदबाजों को टिप्स देते हैं और मैच की रणनीति बनाने में भी बड़ा किरदार निभाते हैं.

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *