Muttiah Muralitharan

IPL 2022: सनराइजर्स हैदराबाद के बॉलिंग कोच मुथैया मुरलीधरन (Muttiah Muralitharan) ने ब्रायन लारा की 21 साल पुरानी पारी को याद किया है. वेस्टइंडीज के महान बल्लेबाज ब्रायन लारा और श्रीलंका के स्पिनर गेंदबाज मुरलीधरन साल 2001 में आमने सामने थे. जहां दोनों खिलाड़ियों के बीच जबरदस्त टक्कर देखने को मिली थी. सनराइजर्स हैदराबाद के ट्रेनिंग सेशन के दौरान मुथैया मुरलीधरन (Muttiah Muralitharan) ने ब्रायन लारा उस पारी को याद करते हुए कई बड़े खुलासे किए हैं.

‘मेरे खिलाफ खेले थे जबरदस्त शॉट’

Muttiah Muralitharan IPL

श्रीलंका के दिग्गज मुथैया मुरलीधरन (Muttiah Muralitharan) ने अपनी शानदार गेंदबाजी से विश्व भर में लोहा मनवाया है. मुथैया मुरलीधरन गेंद को टर्न कराने में माहिर थे. उन्होंने अपनी गेंदबाजी से बड़े-बड़े बल्लेबाजों को भी परेशान किया है. वहीं वेस्टइंडीज के महान बल्लेबाज ब्रायन लारा (Brian Lara) अपनी धाकड़ बल्लेबाजी के लिए जाने हैं. जिनके नाम टेस्ट में 400 रन बनाने का रिकॉर्ड दर्ज है. साल 2001 में वेस्टइंडीज और श्रीलंका के बीच टेस्ट सीरीज खेली गई थी. जिसमें मुथैया मुरलीधरन ने ब्रायन लारा को आउट करने की प्लानिंग बनाई थी. जिसपर लारा ने पानी फेर दिया था. ये बात खुद मुथैया मुरलीधरन बताई है. उन्होंने इस बारे में कहा,

“आपने मेरे खिलाफ जिस तरह के शॉट खेले थे उन्हें याद कर मैं आज भी चौक जाता हूं. मैंने ऑन साइड का एरिया खुला छोड़ कर गेंद को आपसे दूर निकाला था. आपने इसके बाद इंतजार करते हुए ऑन ड्राइव लगाए थे. मर्वन अटापट्टू ने मुझसे फील्ड खोलने के लिए कहा था. हम आपको उस तरह आउट करना चाहते थे जिस शॉट को खेलने में आप सहज महसूस नहीं करते थे. हमें लगा था कि गेंद काफी टर्न हो रही है और इस कारण ऑन ड्राइव खेलना बेहद कठिन होगा.”

श्रीलंका ने जीती थी सीरीज

muthaiya

मुरली ने श्रृंखला के तीसरे टेस्ट की यादों को याद किया. ये टेस्ट कोलंबो में एसएससी में हुआ था. इस टेस्ट में वेस्टइंडीज के बाकी बल्लेबाज ताश के पत्तों की तरह बिखर गए, सिर्फ लारा ने 354 गेंदों में 23 चौकों और दो छक्कों की मदद से 221 रन बनाए थे. श्रीलंका ने यह टेस्ट मैच 10 विकेट से जीता था और तीन मैचों की सीरीज में वेस्टइंडीज को क्लीन स्वीप किया था. मुरली ने सबसे अधिक विकेट लिए थे.

हालांकि, इसके बावजूद लारा ने जिस तरह की बल्लेबाजी की थी उसे आज भी याद किया जाता है. लारा ने सीरीज में तीन शतकों और एक अर्धशतक की बदौलत 688 रन बनाए थे. इस दौरन महान बल्लेबाज ब्रायन लारा तीन मैचो की टेस्ट सीरीज में सबसे अधिक रन बनाने का रिकार्ड भी अपने नाम किया था.