Rohit Sharma-DC

मौजूदा चैंपियन और आईपीएल इतिहास की सबसे सफल टीम में से एक मुंबई इंडियंस का प्रदर्शन इस साल उम्मीद के मुताबिक़ नहीं रहा है. रोहित की टीम ने अब तक खेले गए 13 मुकाबलों में से केवल 6 मुकाबलें ही जीत पायी है. और वो पॉंइटस टेबल में खिसक कर 5वें पायदान पर पहुच गयी है. दिल्ली कैपिटल्स के खिलाफ मिली 4 विकेट की हार के बाद मुंबई की प्लेऑफ की जाने की राह भी काफी कठिन हो गयी थी. हालाँकि ये पहली बार नहीं हो रहा है, जब रोहित की कप्तानी में मुंबई प्लेऑफ तक पहुचने में सफल नहीं हो पायी है.

रोहित की कप्तानी में पहले भी 2 बार हो चुकी है टीम फ़ेल

9S6A1141

2015 से लेकर 2020 तक के आईपीएल के कुल 6 सीजन की बात करें तो मुंबई की टीम 4 बार चैंपियन बनीं. लेकिन टीम जिन 2 सीजन में चैंपियन नहीं बनी, उस बार टीम प्लेऑफ में भी नहीं पहुंच सकी थी. इस बार भी टीम के प्लेऑफ में पहुंचने पर खतरा मंडरा रहा है.

मुंबई इंडियंस ने 2015 में खिताब जीता. लेकिन 2016 में टीम प्लेऑफ में नहीं पहुंच सकी और टीम अंक तालिका में 5वें नंबर पर रही. 2017 में रोहित शर्मा ने एक बार फिर टीम को चैंपियन बनाया. लेकिन 2018 में टीम एक बार फिर बिखर गई. टीम ओवरऑल 5वें नंबर पर रही और प्लेऑफ में जगह बनाने से चूक गई. हालांकि अगले 2 सीजन 2019 और 2020 में मुंबई की टीम खिताब जीतने में सफल रही. पिछले सीजन में तीन बार की चैंपियन टीम सीएसके प्लेऑफ में नहीं पहुंच सकी थी. मुंबई इंडियंस 12 अंक के साथ टेबल में 5वें स्थान पर है.

दिल्ली ने लिया पिछले साल के फाइनल के हार का बदला

9S6A1401

आईपीएल 2021 के 46वें मुकाबलें में शनिवार को दिल्ली कैपिटल्स ने मुंबई इंडियंस को 4 विकेट से हराया. मुंबई की टीम पहले खेलते हुए 8 विकेट पर सिर्फ 129 रन बना सकी थी. दिल्ली ने लक्ष्य को 6 विकेट पर हासिल कर लिया. मौजूदा सीजन के पहले लेग में भी दिल्ली ने मुंबई को 6 विकेट से मात दी थी. आईपीएल के इतिहास में सिर्फ चौथी बार दिल्ली की टीम एक सीजन में दो बार मुंबई को हराने में सफल हुई है. इससे पहले 2009, 2012 और 2018 में टीम ने ऐसा किया था. पिछले सीजन के चारों मैच में मुंबई ने दिल्ली को मात दी थी. इसमें फाइनल मुकाबला भी शामिल था. और अब इस जीत से दिल्ली ने मुंबई से पिछले हार का बदला ले लिया.

राहुल चाहर भी हुए टीम से बाहर

Match42 00372

मुंबई इंडियंस ने शनिवार को दिल्ली के खिलाफ मुकाबले में लेग स्पिनर राहुल चाहर की जगह ऑफ स्पिनर जयंत यादव को मौका दिया. बल्लेबाजी करते हुए जयंत ने 4 गेंद पर नाबाद 11 रन बनाए. फिर गेंदबाजी में 31 रन देकर एक विकेट भी लिया. इससे पहले टीम ईशान किशन को भी प्लेइंग-11 से बाहर कर चुकी है. ये दोनों खिलाड़ी टी20 वर्ल्ड कप के लिए टीम इंडिया का हिस्सा है. लेकिन आईपीएल 2021 के दूसरे चरण के मुकाबले में इन दोनों के अलावा सूर्यकुमार यादव और हार्दिक पंड्या का भी प्रदर्शन भी खराब रहा है. जोकि वर्ल्ड कप से पहले भारतीय टीम के लिए एक बहुत बड़ी चिंता की कारण बन गयी है.