इस आईपीएल सीजन का भी पहला मुकाबला मुंबई इंडियंस चेन्नई सुपर किंग के हाथों अपने घर में हार गयी. इस आईपीएल सीजन का भी नहीं समझे तो हम आपको बता दें ऐसा पहली बार नहीं हुआ है जब लीग के पहले मैच में मुंबई को हार का स्वाद चखना पड़ा हो. इससे पहले साल 2013, 2014, 2015, 2016, 2017 और 2018 में टीम एक बार भी पहले मैच में नहीं जीत पाई.

हालांकि इस दौरान टीम हार को भुलाकर टूर्नामेंट में मजबूत वापसी करते हुए तीन बार (2013, 2015 और 2017) में आईपीएल चैंपियन बनी है. ऐसे में सीजन-11 के इस पहली हार के बाद मुंबई एक बार फिर से वापसी कर आईपीएल के खिताब पर अपना दावा पेश कर सकती है. वैसे यह रिकॉर्ड दिलचस्प है जिसे कप्तान रोहित शर्मा फिर दोहराना चाहेंगे.
मुंबई ने पहले बल्लेबाजी करते हुए अपने चार विकेट खो कर 165 रन बनाए. मुंबई को पहला झटका तीसरे ओवर में लुईस (0) के रूप में लगा जिन्हें दिपक चाहर ने एल्बीडब्ल्यू आउट किया. इसके बाद रोहित शर्मा (15), ईशान किशन (40), सूर्यकुमार (43), हार्दिक पांड्या नाबाद 22 और क्रुणाल पांड्या ने नाबाद 41 रनों की पारी खेली.

लक्ष्य का पीछा करने उतरी चेन्नई टीम के ड्वेन ब्रावो ने शानदारी पारी खेली, उन्होंने 7 चौकों और 3 छक्कों की बदौलत 30 गेंदों पर 68 रन बनाए. चेन्नई टीम के ओपनर अंबाती रायडू, शेन वाटसन मैदान पर आए। वाॅटसन 16 रन बनाकर, रैना 4 रन बनाकर हार्दिक पांड्या की गेंद पर कैच दे बैठे. तीसरे विकेट के रुप में चेन्नई को रायडू (22) का झटका लगा. कप्तान धोनी भी अच्छा प्रदर्शन नहीं कर पाए, वे 5 रन बनाकर आउट हो गए. जडेजा (12) अच्छी बल्लेबाजी कर रहे थे, लेकिन मुस्ताफिजुर रहमान की गेंद पर सूर्यकुमार को कैच दे बैठे. फिर दीपक चाहर (0) और हरभजन सिंह (8) और मार्क वुड (1) प्वेलियन लौटे.
गेंदबाजी की बात करें तो मुंबई के हार्दिक पांड्या और मयंक मार्कंडेय ने तीन-तीन विकेट झटके. चेन्नई के गेंदबाजों में शेन वाॅटसन ने 2 विकेट लिए, जबकि दीपक चाहर और इमरान ताहिर ने एक-एक विकेट लिया.

Anurag Singh

लिखने, पढ़ने, सिखने का कीड़ा. Journalist, Writer, Blogger,

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *