MS Dhoni-DC vs CSKipl

चेन्नई सुपर किंग्स और दिल्ली कैपिटल्स (CSK vs DC) के बीच खेला गया प्लेऑफ का पहला मुकाबला बेहद रोमांचक रहा. इस मैच में एमएस धोनी (MS Dhoni) ने टॉस जीतकर पहले फिल्डिंग का फैसला करते हुए ऋषभ पंत (Rishabh Pant) को बल्लेबाजी का न्योता दिया था. परिणामस्वरूप पहले बल्लेबाजी करने उतरी दिल्ली कैपिटल्स ने 5 विकेट के नुकसान पर 173 रन का लक्ष्य खड़ा किया था. जिसका पीछा करने उतरी चेन्नई की शुरूआत अच्छी नहीं रही. लेकिन, मध्यक्रम और धोनी की अच्छी फिशिंग की वजह से चेन्नई ने इस मैच को 4 विकेट से अपने नाम करते हुए फाइनल में जगह पक्की कर ली है.

दिल्ली के हाथ से जीत छीन ली सीएसके के कप्तान ने

MS Dhoni

आज के मैच को देखकर यही जुबान से निकलेगा कि, वाकई क्या बेहतरीन मैच था यह. जी हां 173 रन के स्कोर का पीछा करने उतरी चेन्नई सुपर किंग्स दिल्ली के खिलाफ कई उतार-चढ़ाव से गुजरी. लेकिन, जीत हासिल करने में कामयाब रही. डेथ ओवर में सीएसके ने एक नहीं दो नहीं बल्कि 4 विकेट बैक टू बैक खो दिए. इसके बाद धोनी के फैंस के बीच फैंस के बीच सन्नाटा पसर गया था. यहां तक कि कुछ दृश्य काफी इमोशनल भी थे. जो कैमरे में कैप्चर हुआ.

लेकिन, अब जब माही हैं तो मुमकिन है. ऐसा कुछ आखिरी के 2 ओवर में देखने को मिला. आज मैच जिताने का जिम्मा रवींद्र जडेजा ने नहीं बल्कि खुद कप्तान एमएस धोनी (MS Dhoni) ने उठाया. उन्होंने वो करके दिखाया जो काफी लंबे वक्त से फैंस देखना चाहते थे. आखिरी ओवर में चेन्नई को जीत को 13 रन चाहिए थे. फिर क्या था माही ने एक के बाद एक चौकों-छक्कों की बारिश कर दी. 3 चौके और 1 छक्के की मदद से उन्होंने ना सिर्फ टीम को जीत दिलाई बल्कि फाइनल मैच की टिकट भी कंफर्म कर ली.

फाइनल में एंट्री करने के बाद कप्तान ने अपने प्रदर्शन पर किया खुलासा

MS Dhoni-DC

इस मुकाबले में दिल्ली कैपिटल्स के खिलाफ 4 विकेट से मिली शानदार जीत के बाद मैच प्रजेंटेशन में बात करते हुए एमएस धोनी (MS Dhoni) ने कहा कि,

“यह एक महत्वपूर्ण पारी थी. दिल्ली के पास एक बेहतरीन गेंदबाजी आक्रमण है. उन्होंने परिस्थितियों का इस्तेमाल भी किया. इसलिए यह हमारे लिए आसान नहीं रहने वाला था. हालांकि अंत में यह हमारे पक्ष में ही रहा. मैंने इस टूर्नामेंट में अभी तक कुछ खास नहीं किया था. मैं नेट्स में अच्छी बल्लेबाजी कर रहा था और अपने फ़ॉर्म के बारे में ज्यादा सोच नहीं रहा था.

शार्दुल ने हाल के दिनों में बेहतरीन बल्लेबाजी की है इसलिए उन्हें ऊपर भेजा गया. रॉबिन हमेशा से ही ऊपर बल्लेबाजी को एन्जॉय करते हैं. मोईन अभी भी तीसरे नंबर के विकल्प हैं. हम परिस्थितियों के मुताबिक ही तय करेंगे कि उथप्पा या मोईन में कौन ऊपर जाए.”