RUN OUT
Prev1 of 2
Use your ← → (arrow) keys to browse

क्रिकेट के मैदान पर रन आउट (RUN OUT) होने वाले खिलाड़ी को सबसे ज्यादा फजीहत झेलनी पड़ती है. एक कहावत है कि अपने पैर पर कुल्हाड़ी मारना. ये कहावत रन आउट होने वाले खिलाड़ी पर बिल्कुल सठीक बैठती है. रन आउट होने के  बाद खिलाड़ी किसी को गलत भी नहीं ठहरा सकता है. क्योंकि उस गलती का वह स्वयं जिम्मेदार होता है.

एक कुशल खिलाड़ी में चौके छक्के मारने के साथ बिटबीन द विकेट में तेज दौड़ लगाने की भी काबीलियत होनी चाहिए. फील्डरों के बीच  से रन चुराने के लिए काफी तेज दौड़ लगानी पड़ती है. फील्डरों के बीच से रन चुराने वाले खिलाड़ियों की बात करें तो भारतीय बल्लेबाज बहुत ही तेज दौड़ लगाते हैं.

महेंद्र सिंह धोनी (MS Dhoni), सुरेश रैना (Suresh raina) और विराट कोहली (Virat Kohli) के दौड़ने के कौशल को पूरी दुनिया जानती है, लेकिन क्रिकेट की दुनिया में कई बल्लेबाज ऐसे भी हैं. जो सबसे ज्यादा बार रन आउट(RUN OUT) हुए हैं. वहीं. इस लिस्ट में दो महान भारतीय भी शामिल हैं.

1. सचिन तेंदुलकर

Sachin Tendulkar RUN OUT

एक कुशल खिलाड़ी में चौके छक्के मारने के साथ बिटबीन द विकेट पर तेज दौड़ लगाने की भी काबीलियत होनी चाहिए, लेकिन कई बार विकटों के बीच तेज दौड़ने वाले खिलाड़ी भी रन आउट का शिकार हो जाते हैं. उसमें भारती खिलाड़ी सचिन तेंदुलकर (Sachin Tendulkar)का भी नाम शामिल है.

सचिन तेंदुलकर ने इंटरनेशनल क्रिकेट के सारे रिकॉर्ड अपने नाम किए हैं. सचिन हमेशा से ही विकेट के बीच बहुत ही अच्छी दौड़ लगाते थे. लेकिन ये दिग्गज खिलाड़ी अपने इंटरनेशनल करियर में 98 बार रन आउट हुआ है. सचिन ने इंटरनेशनल क्रिकेट में 100 शतक लगाए हैं. उनकी बिटवीन द विकेट दौड़ बहुत ही तेज मानी जाती थी.  उसके बाबजूद भी सचिन अपने आप को रन आउट होने से नहीं बचा सके.

Prev1 of 2
Use your ← → (arrow) keys to browse