मोंटी पनेसर-रहाणे

पहले टेस्ट मैच में मिली शर्मनाक हार के बाद विराट कोहली की टीम को लेकर अब मोंटी पनेसर जैसे दिग्गजों का भी बयान सामने आने लगा है. हाल ही में इंग्लैंड के साथ चेन्नई में हुए पहले टेस्ट मैच में ही टीम को बड़ा झटका लगा है. 227 रन से हारने के बाद टीम इंडिया के खिलाड़ी लगातार लोगों के निशाने पर चढ़े हुए हैं. ऐसे में अब विदेशी दिग्गजों ने  भी अपनी प्रतिक्रिया देनी शुरू कर दी है.

मोंटी पनेसर ने विराट कोहली की कप्तानी पर दिया बयान

मोंटी पनेसर

इंग्लैंड के पूर्व बाएं हाथ के स्पिनर पनेसर का कहना है कि टेस्ट मैच हारने के बाद कप्तान काफी ज्यादा दबाव में हैं. यदि भारतीय टीम की दूसरे टेस्ट में भी हार हो जाती है, तो विराट बड़ा फैसला कर सकते हैं. दरअसल ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ एडिलेड चेस्ट मैच हारने के बाद विराट कोहली निजी कारणों की वजह से भारत वापस आ गए थे.

इसके बाद उन्होंने इंग्लैंड के खिलाफ भी हार से ही सीरीज की शुरूआत की है, ऐसे में जाहिर सी बात है कि, विराट कोहली टीम को लेकर दबाव में होंगे. इस बारे में वर्ल्ड इज वन से बात करते हुए मोंटी पनेसर ने कहा कि,

“विराट कोहली सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाजों में से एक हैं. लेकिन बीते 4 टेस्ट मैच में टीम इंडिया उनकी कप्तानी में लगातार  हारी चुकी है.”

विराट कोहली छोड़ देंगे कप्तानी- मोंटी पनेसर

मोंटी पनेसर-विराट

आगे बात करते हुए पनेसर ने कहा कि,

“इस समय लगातार हार का सामना कर रहे विराट कोहली और  दबाव की स्थिति में होंगे. वो ज्यादा दवाब में इसलिए भी होंगे, क्योंकि अजिंक्य रहाणे ने कप्तानी में शानदार प्रदर्शन किया है और भारत को सीरीज दिलाई है.”

दरअसल ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ भारत ने रहाणे की कप्तानी में 2-1 से सीरीज अपने नाम की थी. इसके बाद हर तरफ से उन्हें टीम का कप्तान बनाने की मांग उठ रही थी. जिसे लेकर मोंटी पनेसर ने कहा कि,

‘मुझे लगता है कि यदि विराट कोहली इंग्लैंड के खिलाफ दूसरा टेस्ट मैच भी हार जाते हैं, तो यह संख्या लगातार 5 हार में बदल जाएगी, और इसके बाद वो कप्तानी पद छोड़ने का ऐलान कर सकते हैं’.

क्यों नदीम को मिल रही है जगह- पनेसर

मोंटी पनेसर

हालांकि टीम मैनेजमेंट को लेकर भी लगातार सवाल उठते रहे हैं, क्योंकि पहले टेस्ट की प्लेइंग 11 में अक्षर पटेल के चोटिल होने बाद टीम में कुलदीप के बजाय कोहली ने शाहबाज नदीम को मौका दिया था, जो मेहमान टीम के सामने काफी महंगे साबित हुए. इस बारे में बात करते हुए पनेसर ने कहा कि,

‘मुझे समझ नहीं आता कि, भारत  कुलदीप यादव के बयान नदीम को क्यों जगह दे रहा है.कुलदीप टीम के लिए अच्छा कर रहे हैं, वह नियमित रूप से लय में गेंदबाजी करते हैं, मुझे नहीं पता कि नदीम ने कब से खेलना शुरू किया है, लेकिन लॉकडाउन के बाद से टीम में कुलदीप को होना चाहिए था’.

पहले टेस्ट में  नदीम ने चार विकेट लेकर, दोनो पारियों 3.7 और 4.4 के रन रेट से 233 रन लुटाते हुए काफी महंगे साबित हुए थे.