MY own fans turned against me after taking sachin tendulkars wicket recalls-mohit sharma

Mohit Sharma: भारतीय क्रिकेटर मोहित शर्मा (Mohit Sharma) ने लंबे समय बाद सचिन तेंदुलकर के विकेट लेने वाले किस्से पर खुलासा किया है. उन्होंने बताया कि कैसे उनके फैंस ही उनके खिलाफ हो गए थे जब उन्होंने लाहली में मुंबई के खिलाफ हरियाणा की ओर से खेलते हुए 2013 में सचिन तेंदुलकर (Sachin Tendulkar) का शिकार किया था.

क्रिकेट के भगवान कहे जाने वाले तेंदुलकर का विकेट लेने के बाद मोहित (Mohit Sharma) खुश भी थे लेकिन, चंद मिनट में उनकी ये खुशी मायूसी में बदल गई थी. क्या है पूरा मामला, आइये जानते हैं.

सचिन को बोल्ड करने के बाद फैंस के गुस्से का शिकार हुए थे तेज गेंदबाज

 Mohit Sharma on sachin tendulkar

दरअसल तेंदुलकर को आउट करने के बाद मोहित (Mohit Sharma) जश्न मना रहे थे लेकिन, उन्हें स्टेडियम में बैठे फैंस इस तरह से निशाने पर लेंगे इसका अंदाजा तक नहीं था. विकेट की ये खुशी कैसे निराशा बनी इसके बारे में खुद गेंदबाज ने खुलासा किया. उन्होंने बातचीत के दौरान कहा,

“अजय जडेजा मैदान पर और बाहर दोनों जगह काफी साफ बोलते हैं. जब सचिन पाजी बल्लेबाजी करने आए तो मैं गेंदबाजी कर रहा था. लाहली में विकेट गेंदबाजी के लिए काफी अनुकूल था और अजय भाई ने मुझे गेंदबाजी करने के लिए कहा और सचिन पाजी बोल्ड हो गए.”

फैंस ने मुझ पर गुस्सा करना शुरू कर दिया- Mohit Sharma

His fans were furious at Mohit Sharma

इस सिलसिले में अपनी बात को आगे बढ़ाते हुए मोहित शर्मा ने कहा,

“लेकिन जैसे ही मैं फिल्डिंग करने के लिए वापस अपनी जगह पर पहुंचा, तो मैच देखने के लिए आए फैंस ने मुझ पर गुस्सा करना शुरू कर दिया. ये हमारे अपने लोग थे और उन्होंने ऐसी बातें कही थीं जैसे मैंने सब कुछ नष्ट कर दिया और मुझे कोई शर्म नहीं है कि मैंने महान शख्स को आउट किया.”

हरियाणा के इस तेज गेंदबाज (Mohit Sharma) ने अवार्ड शो में अपनी बात को पूरा करते हुए कहा,

“मैं हैरान था, क्योंकि सचिन पाजी यही सब कुछ है और उनकी फैंटेसी और महानता सब कुछ पार कर जाती है. हरियाणा को भारतीय खेलों में उनके अपार योगदान के लिए भारतीय खेल फैंस पुरस्कार 2022 से सम्मानित किया गया.”

सचिन की तारीफ में गेंदबाज ने पढ़े जमकर कसीदे

Sachin Tendulkar

सचिन तेंदुलकर के बारे में आगे बात करते हुए उन्होंने कहा कि उनकी क्षमता और जूनियर्स को ज्ञान पाने की उनकी इच्छा ही उनकी महानता को दर्शाती है. तेज गेंदबाज मोहित को अहसास हुआ कि जिस तरह से उन्होंने (सचिन) दूसरी पारी में बल्लेबाजी की और मुंबई को जीत के लिए आगे ले गए, वो कुछ ऐसा है जो उन्हें परिभाषित करता है.

मोहित (Mohit Sharma) ने इस सिलसिले में आगे बात करते हुए कहा,

“ऐसी पिच पर खेलते हुए जहां हर कोई संघर्ष कर रहा था, सचिन पाजी ने टेलेंडर के साथ बल्लेबाजी करते हुए अपनी टीम की बदौलत 75 रन नाबाद बनाकर जीत दिलाई थी. सचिन पारी के बाद हमारे ड्रेसिंग रूम में आए और बात की. खिलाड़ियों और कठिन ट्रैक से निपटने के तरीके और स्थिति के अनुसार मानसिकता को बदलने के बारे में काफी कुछ सुझाव भी दिए.”