RG6669

आईपीएल में अक्सर बल्लेबाजों का बोलबाला देखने को मिलता है जिसमें बल्लेबाज अपने धाकड़ प्रदर्शन करते  नजर आते हैं, लेकिन जब कभी-कभी मैदानों पर गेंदबाज अपना जलवा बिखेरते हैं तो सामने की टीम के बल्लेबाज पूरी तरह रन बनाने में असफल हो जाते हैं। कुछ ऐसा ही नजारा देखने को मिला आईपीएल 2020 के 39वें मैच के दौरान जिसमें आरसीबी और कोलकाता की टीमें आमने-सामने थी

तेज गेंदबाज मोहम्मद सिराज ने बिखेरा जलवा

PN 8930 1

मैच के दौरान आरसीबी के गेंदबाजों ने घातक गेंदबाजी का नजारा पेश किया जिसके आगे कोलकाता के बल्लेबाज 20 ओवर में आठ विकेट पर 84 रन बना सके। इस मैच के हीरो थे आरसीबी के तेज गेंदबाज मोहम्मद सिराज जिन्होंने कोलकाता के बल्लेबाजों को रन बनाने का मौका ही नहीं दिया। सिराज जिन्होंने मैच में शुरुआती 2 ओवर मेडन किए और तीन बल्लेबाजों को आउट करके वापस पवेलियन भेजें।

मैच में कुल 4 ओवर गेंदबाजी करने के बाद सिराज ने 8 रन देकर 3 विकेट हासिल किए। मोहम्मद सिराज एक ऐसे गेंदबाज जो आईपीएल के लगभग हर मैच में खूब रन खर्च करते थे, इस मैच में उन्होंने एक भी बाउंड्री नहीं थी जो कि आईपीएल में किसी गेंदबाज के लिए बहुत बड़ी बात है। सिराज अपने शानदार प्रदर्शन के बदौलत ना सिर्फ अपनी टीम को जीत दिलाए, बल्कि मैन ऑफ द मैच भी बने।

बड़ा मुश्किल था सिराज के क्रिकेट का सफर

619136 mohammed siraj

इसी क्रम में अगर मोहम्मद सिराज के क्रिकेट के सफर के बारे में बात करें तो क्रिकेट में इस मुकाम तक पहुंचने के लिए मोहम्मद सिराज की राहें इतनी आसान नहीं थी। क्योंकि एक गरीब परिवार में जन्मे किसी इंसान के लिए इतने  बड़े सपने को हकीकत में बदलना इतना आसान नहीं होता है। मोहम्मद सिराज भी एक बेहद गरीब परिवार मैं पैदा हुए और उनके पिता एक ऑटो ड्राइवर थे।

हालांकि ऑटो ड्राइवर होने के बावजूद उनके पिता ने मोहम्मद सिराज के साथ पिता होने का पूरा फर्ज निभाया और उन्हें इस क्रिकेट के सफर में कोई कमी नहीं होने दी। यहां तक कि उनके परिवार के सदस्य बताते हैं कि मोहम्मद सिराज दिनभर क्रिकेट प्रैक्टिस करते हैं थे और वह कभी-कभी तो रात में भी प्रैक्टिस करने के लिए चले जाते थे, जिसकी वजह से उनकी माँ द्वारा पिटाई भी हुई।

साल 2017 में हैदराबाद ने सिराज पर भरोसा जताया

dc Cover gea73bo90eiq01cuaahgrrhmp2 20171023181456.Medi

मोहम्मद सिराज की यही जिद उन्हें आईपीएल तक लेकर आई, पहले तो सिराज को घरेलू क्रिकेट में हैदराबाद टीम में मौका मिला, फिर वह 2017 आईपीएल के दौरान सनराइजर्स हैदराबाद टीम का हिस्सा बने। सनराइजर्स हैदराबाद ने मोटी रकम खर्च करके सिराज को फ्रेंचाइजी का हिस्सा बनाया।

सन 2017 मोहम्मद सिराज के लिए आईपीएल का पहला साल था इस साल सनराइजर्स हैदराबाद ने उन्हें 2.6 करोड़ में अपने फ्रेंचाइजी का हिस्सा बनाया था। इस साल सिराज ने सनराइजर्स हैदराबाद के लिए शानदार गेंदबाजी की उन्हे 6 मैचों में टीम के प्लेइंग इलेवन का प्रतिनिधित्व करने का मौका मिला। जिसमें उन्होंने कुल 10 बल्लेबाजों को आउट करके वापस पवेलियन भेजा। इस दौरान 32 रन पर चार विकेट उनका सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन रहा था

फिर सिराज की आरसीबी में हुई इंट्री

VRP0307

2018 में आरसीबी ने सिराज को अपने फ्रेंचाइजी का हिस्सा बनाया, 2018 में सिराज ने आरसीबी के लिए 11 मैचों में 11 विकेट झटके। फिर 2019 में भी सिराज से आरसीबी को काफी उम्मीदें थी लेकिन इस बार उनसे इतना अच्छा प्रदर्शन देखने को नहीं मिला उन्होंने नौ मैच में सिर्फ 7 विकेट झटके और उस दौरान उनकी इकॉनमी भी 9.55 की रही। 2019 में इतना खराब प्रदर्शन के बावजूद आरसीबी ने उन पर भरोसा जताया रखा, हालांकि उम्मीद जताई जा रही थी की आरसीबी उन्हे रिलीज कर देगी।

आरसीबी ने 2020 में जब  सिराज को मैदान पर उतारा तो उन्होंने कमाल ही कर दिया सिराज इस साल अब तक आरसीबी के लिए 4 मैच खेल चुके हैं, जिसमें उन्होंने शानदार गेंदबाजी करते हुए छह बल्लेबाजों को आउट किया अच्छी बात यह है कि सिराज ने इस साल 7.85 की इकॉनमी से रन खर्च किया जो कि आईपीएल के नजरिए से काफी बेहतरीन गेंदबाजी कही जा सकती है।