मोहम्मद सिराज

भारत-ऑस्ट्रेलिया के बीच 4 मैचों की टेस्ट सीरीज खत्म हो चुकी है, और भारतीय टीम कंगारूओं को उन्हीं के घर में घुसकर शिकस्त देने के बाद वापस भारत आ चुकी है. ऑस्ट्रेलिया में इतिहास रचने के बाद स्वदेश लौटी भारतीय टीम का जोरदार स्वागत हो रहा है. ब्रिस्बेन में मिली करारी शिकस्त को शायद ही कभी कंगारू कभी भूल पाएं. लेकिन इस जीत के साथ ही मोहम्मद सिराज समेत टीम को विदेशी सरजमीं पर नस्लभेदी टिप्पणी और भद्दे कमेंट का भी सामना करना पड़ा था.

पहली बार ऑस्ट्रेलिया में नस्लभेदी टिप्पणी विवाद पर बोले मोहम्मद सिराज

मोहम्मद सिराज

दरअसल टीम इंडिया के जरिए पहली बार अंतर्राष्ट्रीय टेस्ट में डेब्यू करने वाले तेज गेंदबाज मोहम्मद सिराज समेत जसप्रीत बुमराह को भी ऑस्ट्रेलिया में समर्थकों ने अनैतिक शब्द कहे थे. जिसके बारे में भारत लौटने के बाद मोहम्मद सिराज ने पहली बार इस पूरे मामले पर अपना बयान दिया है कि, जब उन्होंने इसकी शिकायत मैदानी अंपायरों से की, तो उन्होंने भारतीय टीम को किस तरह की सलाह दी थी.

दरअसल भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच हुआ सिडनी टेस्ट मैच सबसे ज्यादा विवादों में रहा था. इस मुकाबले में लगातार भारतीय टीम के खिलाड़ी मोहम्मद सिराज और बुमराह को भद्दे कमेंट और नस्लभेदी टिप्पणी का सामना करना पड़ा था. जिसके बाद भारतीय टीम के मैनेजमेंट समेत कार्यवाहक कप्तान ने भी इसकी शिकायत अंपायरों से की थी.

सिडनी टेस्ट में अनैतिक व्यवहार पर मोहम्मद सिराज ने किया बड़ा खुलासा

मोहम्मद सिराज

ऐसे में अब मोहम्मद सिराज ने यह खुलासा किया है कि, जब इस अनैतिक व्यवहार के लिए टीम ने अंपायर से शिकायत की तो उन्होंने सिडनी टेस्ट को भारतीय टीम को हैरान करने वाली ऑप्शन दे दिया था. हालांकि समर्थकों की तरफ से किए गए दुर्व्यवहार के चलते क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया (CA) ने भारतीय टीम के खिलाड़ियों से माफी भी मांगी थी.

हालांकि जब बार-बार मोहम्मद सिराज के साथ समर्थकों ने बदतमीजी जारी रखी तो इसकी शिकायत उन्होंने पहले टीम के कप्तान अजिंक्य रहाणे से की थी. इसके बाद रहाणे ने मैदानी अंपायर पॉल रीफेल और पॉल विल्सन को इसकी जानकारी दी.

अंपायर ने बीच में ही सिडनी टेस्ट मैच छोड़ने की दी थी सलाह

मोहम्मद सिराज

हैदराबाद पहुंचते ही सिराज ने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस करते हुए इस पूरे मामले का खुलासा किया. उन्होंने कहा कि,

‘मैंने ऑस्ट्रेलिया में अपशब्द सहे. मामला चल रहा है और देखते हैं कि मुझे न्याय मिलता है या फिर नहीं. मेरा काम कप्तान को इसकी जानकारी देना था.’

इसके साथ ही सिराज ने अपने बयान में यह भी खुलासा किया कि,

‘अंपायरों ने हमें इस शिकायत के बाद मैच छोड़ देने की सलाह दी थी, लेकिन रहाणे (भाई) ने कहा कि हम मैच नहीं छोड़ेंगे. क्योंकि हमारी तरफ से कोई गलती नहीं की गई है, इसलिए हम मैच खेलेंगे.’