Ex-Pakistan captain mohammed hafiz Said big similarity between Kohli and Hasan Ali

Mohammad Hafeez: पाकिस्तान क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान और दिग्गज बल्लेबाज़ मोहम्मद हफीज़ ने हाल ही में भारत के स्टार बल्लेबाज़ विराट कोहली की तुलना हसन अली के साथ की है. दरअसल, यह दोनों खिलाड़ी इस वक्त लगभग एक ही दौर से गुज़र रहे हैं. जहां कोहली पिछले कुछ महीनों से खेल में अपना इम्पैक्ट डालने में लगातार नाकाम हुए हैं. वहीं हसन की गेंदबाज़ी में भी वो धार नज़र नहीं आई. ऐसे में हफीज़ (Mohammad Hafeez) ने दोनों की तुलना की है.

हफीज़ ने हसन अली की विराट से की तुलना

Mohammad Hafeez compares Virat Kohli and hasan ali

हर कोई इस बात से वाकिफ है कि पिछले काफी लंबे समय से विश्व के सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाज़ों में से एक विराट कोहली आउट ऑफ़ फॉर्म चल रहे हैं. वह पिच पर एक-एक रन बनाने के लिए संघर्ष कर रहे हैं. उन्हें इस दौर से गुज़रते हुए देख हर कोई परेशान है. ऐसे में पाकिस्तान के मोहम्मद हफीज़ ने विराट की खराब फॉर्म का मुख्य कारण “मेंटल प्रेशर को बताया है. साथ ही यह भी कहा है कि उन्हें फॉर्म में आने के लिए ब्रेक की ज़रूरत है. उन्होंने (Mohammad Hafeez) इस बारे में Dawn पर बात करते हुए कहा,

“विराट कोहली पिछले 10 वर्षों के सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ियों में से एक हैं. मुझे लगता है कि वह भी इसी समस्या का सामना कर रहा है. उसे एक ब्रेक की जरूरत थी क्योंकि उस पर बहुत अधिक मानसिक दबाव था विराट को इस सीरीज के लिए आराम देने का उनका (BCCI) फैसला उनके लिए सबसे अच्छा फैसला था.”

हसन अली के बचाव में बोले Mohammad Hafeez

Mohammad Hafeez on Hasan Ali

आपको बता दें कि पीसीबी ने हाल ही में नीदरलैंड्स टूर और एशिया कप 2022 के लिए स्क्वाड का ऐलान किया है. जिसमें अनुभवी तेज़ गेंदबाज़ हसन अली को नहीं शामिल किया गया है. ऐसे में हफीज़ (Mohammad Hafeez) ने गेंदबाज़ का बचाव करते हुए कहा,

“हसन अली एक शानदार क्रिकेटर हैं. मैं उन्हें उनके शुरुआती दिनों से जानता हूँ. वो एक फाइटर हैं. करियर के ऐसे मोड़ पर जब आप अच्छी फॉर्म में नहीं होते आप मानसिक रूप से थक जाते हो. लेकिन इसके बावजूद आप प्रदर्शन करना चाहते हो. मुझे लगता है कि मैनेजमेंट ने हसन के साथ ठीक नहीं किया. हसन को उन मैचों में खेलना पड़ा जब उन्हें आराम दिया जा सकता था. उसे वो गेप नहीं मिला जो उन्हें चाहिए था.”

पाकिस्तान के पूर्व कप्तान का मानना है कि हसन अली को ब्रेक काफी लंबे समय पहले देना चाहिए था क्योंकि वह गंभीर मानसिक दबाव से गुज़र रहे थे. इस तरह दोनों खिलाड़ियों के मानसिक दबाव को देखते हुए हफीज़ ने हसन अली और विराट कोहली की एक दूसरे से तुलना की है.