पाकिस्तान के मुख्य चयनकर्ता और मुख्य कोच मिस्बाह-उल-हक ने सुझाव दिया है कि आईसीसी को जल्दबाजी में टी 20 विश्व कप स्थगित करने का निर्णय नहीं करना चाहिए. आप सभी की जानकारी के बता दे कि आईसीसी 28 मई को ऑस्ट्रेलिया में खेले जाने वाले टी20 विश्व कप पर अपना अंतिम फैसला सुनायेगे.

खबरों में मुताबिक आईसीसी टी20 विश्व कप को आगे के लिए स्थगित कर सकता है और विश्व कप के स्थान पर बीसीसीआई अक्टूबर-नवंबर की विंडो में इंडियन प्रीमियर लीग को आयोजित कर सकता हैं.

विश्व कप को लेकर जल्दबाजी सही नहीं

हालांकि, मिस्बाह को लगता है कि आईसीसी को टी20 विश्व कप के भविष्य का फैसला करने के लिए एक और महीने का समय चाहिए और खुद को फैसले में जल्दी नहीं करना चाहिए. क्रिकबज के यूट्यूब चैनल पर मिस्बाह ने कहा,

”16 टीमों की मेजबानी का लॉजिस्टिक्स आसान नहीं है, लेकिन अधिकारियों को यह समय देना चाहिए और कोई भी निर्णय लेने से पहले एक महीने या उससे अधिक समय तक इंतजार करना चाहिए. हर कोई ICC T20 विश्व कप देखना चाहता है. एक बार अंतरराष्ट्रीय स्तर पर गतिविधियों को फिर से शुरू करने के लिए क्रिकेट को उजागर करना के लिए ये सबसे अच्छा उत्पाद होगा.”

क्या होगा विश्व कप का भविष्य

मिस्बाह ने कहा कि कोरोनोवायरस के कारण दुनिया में बहुत अधिक अवसाद है और यह वैश्विक घटना होने पर मदद करेगा. हालांकि, आईसीसी कोई जोखिम नहीं लेने वाला है. इसके अलावा, यह बात भी सुनने में आ रही है कि टी20 विश्व कप के स्थान पर सभी बोर्ड द्विपक्षीय सीरीज खेलने पर विचार करेंगे ताकि कोविड 19 से हुए नुकसान को भरपाई भी की जा सके.

मिस्बाह उल हक ने आगे कहा, ”लेकिन इस कोविड -19 समस्या के कारण पूरी दुनिया में अभी अवसाद की भावना है और निलंबित खेलों के साथ मनोरंजन नहीं है. लोग आगे बढ़ना चाहते हैं इसलिए मुझे लगता है कि हमें इसे आजमाना चाहिए.’’

आप सभी की जानकारी के लिए बता दे, कि अगर टी20 विश्व कप स्थगित हुआ तो अगले साल फरवरी और मार्च के महीने में आयोजित किया जा सकता हैं.

AKHIL GUPTA

क्रिकेट...क्रिकेट...क्रिकेट...इस नाम के अलावा मुझे और कुछ पता नहीं हैं. बस क्रिकेट...