Michael Vaughan-virat

भारत-इंग्लैंड (INDvsENG) के बीच जारी 3 मैचों की वनडे सीरीज का दूसरा मुकाबले में मिली करारी शिकस्त के बाद पूर्व कप्तान माइकल वॉन (Michael Vaughan) ने विराट कोहली (Virat Kohli) को को लेकर बड़ा बयान दिया है. दरअसल अपने बयानों को लेकर अक्सर चर्चाओं का हिस्सा बने रहने वाले वॉन इंग्लैंड की जीत से बेहद खुश हैं, और इसका अंदाजा उनके ट्वीट को देखकर लगाया जा सकता है.

विराट की कप्तानी से संतुष्ट नहीं वॉन

Michael Vaughan

दूसरे वनडे मैच में पहले बल्लेबाजी करते हुए भारतीय टीम ने 50 ओवर में 336 रन बनाए थे. इंग्लैंड टीम को जीत के लिए 337 रन की जरूरत थी. इस लक्ष्य का पीछा करने उतरी मेहमान टीम ने मुकाबले को महज 42 ओवर में ही अपने नाम कर लिया था.

6 विकेट से मिली हार के बाद  कप्तान विराट कोहली सोशल मीडिया पर बुरी तरह से ट्रोल हो गए थे. लोग उनकी कप्तानी पर कई तरह के सवाल उठाए थे. ऐसे जिस तरह के कोहली ने गेंदबाजी में बदलाव किए, उससे माइकल वॉन (Michael Vaughan) खुश नहीं दिख रहे हैं. साथ ही उन्होंने उनकी कप्तानी पर सवाल दाग दिए हैं.

दूसरे वनडे में POOR थी कोहली की कप्तानी- वॉन

WhatsApp Image 2021 03 27 at 10.33.35 AM

दरअसल मौजूदा समय में इंग्लैंड के कमेंटेटर वॉन ने विराट कोहली की कप्तान को खराब करार दिया है. सीरीज का दूसरा मैच खत्म होने के बाद उन्होंने अपने बयान में कहा कि,

‘जब इंग्लैंड के बल्लेबाज तेजी से रन बन रहे थे,  और जीत के करीब पहुंच रहे थे, उस दौरान भी कोहली ने अपने मुख्य गेंदबाज भुवनेश्वर कुमार (Bhuvneshwar Kumar) और प्रसिद्ध कृष्णा (Prasidh krishna) को गेंदबाजी आक्रमण से हटा दिया’.

माइकल वॉन (Michael Vaughan) ने कोहली के इस फैसले की आलोचना  करते हुए कहा कि,

‘गेंदबाजी को लेकर कप्तान की तरफ से बनाई गई ये योजना बहुत ही साधारण थी. ऐसे समय में टीम को अपने सर्वश्रेष्ठ गेंदबाजों का इस्तेमाल करना चाहिए था. हालांकि विराट कोहली ने वाकई बेहद खराब कप्तानी की’.

वर्ल्ड कप में टीम इंडिया को उठाना पड़ सकता है सुरक्षित बल्लेबाजी का खामियाजा- वॉन

Kuldeep yadav chahal 1

हालांकि वॉन के कप्तानी पर सवालों की बौछार करते हुए भारतीय गेंदबाजी पर भी शब्दों से प्रहार किए. इसके साथ ही इंग्लिश टीम के पूर्व कप्तान ने कहा कि, दूसरे मैच में मिली करारी शिकस्त से टीम इंडिया को सीखने की जरूरत है. क्योंकि विकेट बचाए रखने के चक्कर में भारतीय टीम के बल्लेबाजों ने 40 ओवर तक काफी धीमी तरीके से रन बटोरे.

माइकल वॉन (Michael Vaughan) ने कहा कि, टीम इंडिया की बल्लेबाजी में इस बात की गहराई थी कि, वो दूसरे मुकाबले में  पुणे जैसे फ्लैट विकेट पर 375 रन से ज्यादा का लक्ष्य दे सकती थी. लेकिन अगर आने वाले समय में भारत इस तरह से सुरक्षित बल्लेबाजी की ताक में रहा तो, 2 साल बाद होने वाले वर्ल्ड कप (World Cup) में उसको इसका खामियाजा उठाना पड़ सकता है.