9S6A9630
PC_IPLT20.COM

संयुक्त अरब अमीरात में खेले जा रहे आईपीएल के 13वें सीजन का मंगलवार को चौथा मैच खेला गया। इस मैच में चेन्नई सुपर किंग्स और राजस्थान रॉयल्स की टीमें आमने-सामने थी। पहले मैच में चेन्नई सुपर किंग्स ने मुंबई इंडियंस जैसी बड़ी टीम को मात दी थी। ऐसे में यहां पर उनसे काफी उम्मीदें थी। लेकिन रॉयल्स ने उनकी उम्मीदों को तोड़ दिया।

राजस्थान रॉयल्स को बड़े स्कोर से नहीं रोक सके सीएसके

शारजाह में इस सीजन का पहला मैच चेन्नई सुपर किंग्स और राजस्थान रॉयल्स के बीच खेला गया। इस मैच में महेन्द्र सिंह धोनी ने टॉस जीतकर राजस्थान रॉयल्स को पहले बल्लेबाजी करने को कहा। टॉस के बाद तो माना जा रहा था कि सीएसके की टीम हावी रहेगी।

Eih1 XHWkAAz9E

लेकिन राजस्थान के बल्लेबाजों का इरादा ही कुछ और था। सीएसके ने भले ही रॉयल्स को जल्द ही पहला झटका दे डाला। लेकिन यहां से संजू सैमसन और स्टीवन स्मिथ ने मैच को पूरी तरह से बदल डाला। देखते ही देखते रॉयल्स की टीम ने रनों की अंबार लगा दिया।

सीएसके को गेंदबाजी और बल्लेबाजी में भारी पड़ी गलतियां

चेन्नई सुपर किंग्स के गेंदबाजी आक्रमण की धज्जियां उड़ाते हुए राजस्थान रॉयल्स ने बड़ा स्कोर खड़ा कर डाला। संजू सैमसन के 32 गेंद में 74 और स्टीवन स्मिथ के शानदार पचासे की मदद से रॉयल्स ने 216 रन का स्कोर खड़ा कर डाला।

M4DM 686
PC_IPLT20.COM

इसके बाद चेन्नई सुपर किंग्स की अच्छी शुरुआत के बाद लड़खड़ा गई। लेकिन आखिर में फाफ डू प्लेसीस ने पूरी कोशिश तो की परंतु टीम 200 रन ही बना सकी। सीएसके को 16 रन से मैच गंवाना पड़ा। महेन्द्र सिंह धोनी इस हार से काफी निराश दिखे।

धोनी ने कहा 200 रन तक रोकते तो अच्छा होता मैच

सीएसके के कप्तान महेन्द्र सिंह धोनी ने मैच के बाद प्रेजेंटेशन सैरेमनी में  कहा कि

स्कोर बोर्ड पर 217 के जवाब में हमें एक बहुत अच्छी शुरुआत की जरूरत थी जो कि नहीं हुई। स्टीव और सैमसन ने बहुत अच्छी बल्लेबाजी की। उन्हें अपने गेंदबाजों को श्रेय देने की जरूरत है। एक बार जब आप पहली पारी देख लेते हैं, तो आप जानते हैं कि गेंदबाजी करने की लाईन लैंथ कैसी रखनी है।”

9S6A9630
PC_IPLT20.COM

“उनके स्पिनरों ने बल्लेबाज से अलग गेंदबाजी की। हमारे स्पिनरों ने गेंदबाजी करने में बहुत सारी गलतियाँ की। अगर हमने उन्हें 200 तक सीमित कर दिया होता, तो यह एक अच्छा मैच होता।”