Test-devon conway

टेस्ट (Test) फॉर्मेट की शुरूआत को करीब डेढ़ सौ साल बीत चुके हैं. इस लंबे दौर में खिलाड़ियों की तरफ से कई बड़े रिकॉर्ड बने और कई टूट भी गए. कहते हैं कि, खेल में रिकॉर्ड बनाए ही तोड़ने के लिए जाते हैं. इसी बीच एक ऐसा ही एक रिकॉर्ड शनिवार, 5 जून को लॉर्ड्स के ऐतिहासिक मैदान पर दोहराया गया है. इस ग्राउंड पर इन दिनों इंग्लैंड और न्यूजीलैंड (NZ vs ENG) के बीच 2 मैचों की सीरीज का पहला मुकाबला खेला जा रहा है. पहले ही दिन से इस मैदान पर खिलाड़ियों की ओर से उपलब्धि हासिल की जा रही है. ऐसे में आपको बताने जा रहे हैं उस नए रिकॉर्ड के बारे में जो 70 बाद दोहराया गया है.

70 साल बाद फिर से दोहराया गया इतिहास

Test

पहले टेस्ट (Test) मैच में चौथे दिन खेलने उतरी इंग्लैंड की पहली पारी मात्र 275 रन बनाकर ढेर हो गई. इंग्लिश टीम की तरफ से सिर्फ सलामी बल्लेबाज रॉरी बर्न्स ने सबसे ज्यादा 132 रन की पारी खेली थी. लेकिन आखिरी विकेट के रूप में वो भी आउट हुए हो गए. लेकिन उनके विकेट के साथ 70 साल पुराने एक रिकॉर्ड फिर से दोहराया गया.

दरअसल लॉर्ड्स टेस्ट (lords test) के चौथे दिन इंग्लैंड की बल्लेबाजी काफी कमजोर दिखी. चौथे दिन की शुरूआत करने वाली अंग्रेजी टीम के सिर्फ 2 विकेट गिरे थे. लेकिन 111 रन से आगे खेलने उतरी पूरी टीम पहली पारी में सिर्फ 275 रन बनाकर ऑलआउट हो गई. जल्दी खिलाड़ियों के विकेटों का पतन होने के कारण इंग्लैंड पर 103 रन की लीड भी चढ़ गई.

कॉनवे और बर्न्स ने 70 साल बाद किया ये कारनामा

photo 2021 06 06 12 37 38

टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने उतरी न्यूजीलैंड टीम की तरफ से सबसे ज्यादा रन डेविन कॉनवे (devon conway) ने बनाया था. उनके दोहरे शतक की मदद से टीम ने 378 रन बनाए थे. न्यूजीलैंड की पारी में कॉनवे भी आउट होने वाले अंतिम बल्लेबाज थे. जबकि इंग्लैंड की तरफ से बर्न्स के आखिर में आउट होने से एक पुराना रिकॉर्ड दोहराया गया है. जी हां 70 साल बाद क्रिकेट इतिहास में दूसरी बार ऐसा नजारा देखने को मिला है,

जब किसी टेस्ट (Test)  मैच में दोनों टीमों की पहली पारी में सलामी बल्लेबाज ने आखिर तक बल्लेबाजी की हो. न्यूजीलैंड की तरफ से डेब्यू करते हुए कॉनवे ने भी ओपनिंग करते हुए 200 रन बनाए और अंतिम में जाकर आउट हुए. तो वहीं बर्न्स ने भी ओपनर के तौर पर बल्लेबाजी करते हुए 132 रन की पारी खेला और 10वें विकेट के रूप में आउट हुए.

70 साल पहले ऑस्ट्रेलिया और इंग्लैंड के इन बल्लेबाजों ने किया था ये कारनामा

photo 2021 06 06 12 41 49

हालांकि ऐसा पहली बार 1951 में देखने को मिला था. करीब 70 साल पहले का इतिहास है, जब ऑस्ट्रेलिया और इंग्लैंड के बीच खेले गए मुकाबले में देखने को मिला था. एडीलेड में खेले गए इस मुकाबले में कंगारू टीम की ओर से पहली पारी में ओपनर आर्थर मॉरिस (Arthur Morris) 206 रन बनाकर अंतिम विकेट के रूप में आउट हुए थे. तो वहीं इंग्लैंड की ओर से पहली पारी में ओपनिंग करने उतरे लेन हटन 156 रन बनाकर आखिरी विकेट के तौर पर  नॉटआउट रहे थे.

photo 2021 06 06 12 41 52

इसके अलावा एक और इतिहास साल 1979-80 के बीच देखने को मिला था. इस दौरान एक ही टीम का ओपनर दोनों पारियों में आखिर में आउट हुआ था. दरअसल वेस्टइंडीज और न्यूजीलैंड के बीच डुनेडिन में खेले गए टेस्ट मैच में वेस्टइंडीज के ओपनर बल्लेबाज डेसमंड हेंस (Desmond Haynes) अपनी टीम की तरफ से दोनों पारियों में आउट होने वाले आखिरी बल्लेबाज थे.