wriddhiman saha

भारतीय क्रिकेट टीम के विकेटकीपर बल्लेबाज ऋद्धिमान साहा (Wriddhiman Saha) इन दिनों चर्चाओं में हैं. उनके खुलासे के बाद कई बड़े दिग्गज खिलाड़ी इस पर अपनी-अपनी प्रतिक्रिया दे रहे हैं. इसी बीच टीम इंडिया के पूर्व क्रिकेटक लालचंद ने बड़ी प्रतिक्रिया दी है. अपने इंटरव्यू और पत्रकार की ओर से किए गए दुर्व्यहार के चलते पूर्व क्रिकेटर सुर्खियों में हैं. ऋद्धिमान साहा (Wriddhiman Saha) ने खुलासा किया था कि कोच राहुल द्रविड़ (Rahul Dravid) उन्हें संन्यास लेने की सलाह दी थी. इस पर पूर्व क्रिकेटर का क्या कुछ कहना है इस बारे में भी आपको बता देते हैं.

साहा के खुलासे पर पूर्व क्रिकेटर ने दी प्रतिक्रिया

 Wriddhiman Saha Controversy
PC- BCCI

 

दरअसल अगले महीने से भारत और श्रीलंका टीम के बीच 2 मैचों की टेस्ट सीरीज खेली जाएगी. लेकिन, उससे पहले चुनी गई टीम में मौजूदा दिग्गज विकेटकीपर को जगह नहीं मिली है. जिसके खिलाफ उन्होंने नाराजगी जताई थी. उन्होंने चयनकर्ताओं के साथ हुई बातचीत का खुलासा पब्लिकली खुलासा कर दिया. जिसके बाद से ये सवाल खड़े होने लगे हैं कि क्या एक बार फिर उनकी टीम वापसी होगी.

क्योंकि ऋद्धिमान साहा (Wriddhiman Saha) रणजी ट्रॉफी (Ranji Trophy) में भी हिस्सा नहीं ले रहे हैं. उन्होंने टीम इंडिया की ओर से अब तक 40 टेस्ट मैच खेले हैं. इसी बीच न्यूज 18 से बातचीत करते हुए भारत के  पूर्व कोच और जिम्बाब्वे के वर्तमान कोच लालचंद राजपूत (Lalchand Rajput) ने कहा कि संन्यास का फैसला खिलाड़ी को खुद करना चाहिए.

किसी भी खिलाड़ी को नहीं दे सकते हैं संन्यास लेने की सलाह- लालचंद

lalchand Rajput on Wriddhiman Saha Statement

इस बारे में बात करते हुए उन्होंने कहा,

‘आप किसी भी खिलाड़ी को यह नहीं बोल सकते हैं कि आप संन्यास लो. हर खिलाड़ी के ऊपर यह होता है कि वह कब तक खेले और कब संन्यास ले. यह उसका निजी फैसला होता है.’

उन्होंने ये भी कहा कि भले ही आप खिलाड़ियों को टीम इंडिया में नहीं ले सकते हैं. लेकिन, वह फर्स्ट क्लास क्रिकेट और आईपीएल में तो खेल ही सकता है.

ऋद्धिमान साहा (Wriddhiman Saha) के मामले में आगे बातचीत करते हुए लालचंद राजपूत ने कहा कि यदि आप किसी खिलाड़ी से संन्यास की बात करते हैं ताे उसके सारे रास्ते बंद हो जाते हैं. उन्होंने कहा,

‘एमएस धोनी (MS Dhoni) अभी तक फिट है और खेल रहा है. उसने टेस्ट और वनडे से खुद संन्यास लिया है. उससे किसी ने कहा नहीं. अगर आप किसी खिलाड़ी को टीम इंडिया में नहीं लेते हैं ताे उसे खुद ही इस बारे में जानकारी मिल जाती है और वह खुद संन्यास के बारे में सोचना लगता है.’

कम्यूनिकेशन नहीं रहा है अच्छा- पूर्व क्रिकेटर

Wriddhiman Saha

इतना ही नहीं लालचंद राजपूत ने ये भी कहा 40 टेस्ट खेलने वाले ऋद्धिमान साहा (Wriddhiman Saha) के साथ कम्यूनिकेशन कहीं न कहीं सही नहीं रही है. मैं भी कोच हूं. मेरे पास भी कई खिलाड़ी आते हैं और कहते हैं कि मेरे लिए भविष्य में किस तरह के मौके हैं. मैं उनसे हमेशा कहता हूं कि आप अच्छा प्रदर्शन करो, उम्र कोई बंधन नहीं है.

उन्होंने कहा कि अगर आप प्रदर्शन ठीक-ठाक कर रहे हैं और युवा खिलाड़ी भी अच्छा प्रदर्शन कर रहा है तो मैं युवा खिलाड़ी को मौका दूंगा. लेकिन, खिलाड़ी को फिटनेस बनाए रखना होगा और लगातार अच्छा प्रदर्शन करते रहने होगा. ऐसा करने पर आपको कोई टीम से नहीं निकाल सकता.