श्रीलंका और वेस्टइंडीज के बीच टेस्ट सीरीज के आखिरी मैच के दौरान एक ऐसा दृश्य देखने को मिला जिसे देख हर क्रिकेट प्रेमी का दिल दहल जाएगा. इस सीन को देख आपको बी ही अंदाजा हो जाएगा कि खिलाड़ी किसी भी मैच में अपना शत प्रतिशत देने खातिर किस तरह का जोखिम उठाते हैं. श्रीलंका और वेस्टइंडीज के बीच आखिरी टेस्ट मैच में लंकाई सलामी बल्लेबाज फील्डिंग के दौरान बुरी तरीके से घायल हो गए हैं. इस एक्सीडेंट की वीडियो सोशल मीडिया पर तेज़ी से वायरल हो रही है.

दरअसल, वेस्टइंडीज के खिलाफ फील्डिंग करते वक्त कुशल परेरा एक कैच पकड़ने के लिए गेंद के पीछे दौड़ रहे थे. गेंद का पीछा करते-करते परेरा बाउंड्री के पास पहुंच गए और उनका बैलेंस बिगड़ गया, जिसके कारण वह बाउंड्री पर लगे विज्ञापन बोर्ड से टकरा गए. बोर्ड से टकराने के बाद परेरा सीने पर हाथ रखकर मैदान में ही लेट गए और इशारा करके उन्होंने मदद मांगी. परेरा की गंभीर हालत देखने के बाद मैदान में ही एंबुलेंस बुलवानी पड़ी. उन्हें स्ट्रेचर में लेटाकर एंबुलेंस में डाला गया.


वहीं अगर मैच की बात करे तो तीन मैचों की सीरीज का आखिरी टेस्ट जीतकर श्रीलंका ने सीरीज 1-1 से ड्रॉ करा ली. बारबाडोस टेस्ट में श्रीलंका ने वेस्टइंडीज के चार विकेट से हराकर सीरीज में बराबरी हासिल की. दिलचस्प बात यह है कि इस मैच में चोटिल हुए कुशल परेरा ने मैच में वापसी करके टीम के लिए जिताऊ पारी खेली. परेरा ने नाबाद 28 रनों की पारी खेल टीम को जीत दिलाई. श्रीलंकाई टीम इस मैच में कप्तान दिनेश चंडीमल के बिना खेलने उतरी थी. चंडीमल को दूसरे टेस्ट में बॉल टेम्परिंग विवाद के बाद एक टेस्ट मैच के लिए बैन किया गया था. उनकी गैरमौजूदगी में सुरंगा लकमल ने टीम की कमान संभाली थी.

मैच के आखिरी दिन श्रीलंका को जीत के लिए 63 रनों की दरकार थी, जबकि उसके पांच विकेट बचे थे. मैच के आखिरी दिन श्रीलंका ने एक और विकेट गंवाकर ये लक्ष्य हासिल कर लिया. श्रीलंका के लिए ये ऐतिहासिक जीत थी, क्योंकि बारबाडोस में किसी भी एशियाई टीम की ये पहली टेस्ट जीत थी.

Anurag Singh

लिखने, पढ़ने, सिखने का कीड़ा. Journalist, Writer, Blogger,

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *